कोरोना पॉजिटिव सरकारी डॉक्टर निजी क्लीनिक में कर रहा था कोविड मरीजों का इलाज, पकड़ा गया

 05 May 2021 11:41 AM

बड़वानी। मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले में एक सरकारी डॉक्टर स्वयं कोरोना पॉजिटिव होकर अपने क्लीनिक में कोरोना मरीजों का इलाज कर रहा था। एसडीएम घनश्याम धनगर को इसकी सूचना मिली तो उन्होंने पुलिस के साथ क्लीनिक पर दबिश दी। यहां आठ लोगों का इलाज चल रहा था। डॉक्टर का प्राइवेट क्लीनिक सील कर दिया गया है। 

एसडीएम के अनुसार, डॉक्टर के पास निजी अस्पताल चलाने के कोई पेपर नहीं थे। डॉ. मुकेश चौहान 24 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव आए थे। वह शासकीय कोविड सेंटर आशा ग्राम में पदस्थ हैं। कोरोना पॉजिटिव होने के चलते छुट्टी पर थे, लेकिन अपनी क्लीनिक में कोरोना मरीजों का इलाज कर रहे थे। एसडीएम की कार्रवाई में वह रंगेहाथों पकड़े गए। 

एसडीएम ने बताया कि डॉ. मुकेश चौहान ओम साईं राम और डे केयर सेंटर नामक अस्पताल भी संचालित कर रहे थे। इन अस्पतालों में कुल आठ मरीज भर्ती थे, इनमें कुछ कोरोना पॉजिटिव थे और कुछ कोविड सस्पेक्ट थे।