मोदी ने मन की बात में की इंदौर के वाटर प्लस की प्रशंसा, कहा- अन्य शहर भी अनुसरण करें

 29 Aug 2021 08:40 PM

पीपुल्स संवाददाता, इंदौर। वाटर प्लस में शहर को नंबर वन का खिताब मिलने की हर जगह सराहना हो रही है। रविवार को मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसकी प्रशंसा कर शहर को गौरवान्वित किया है। उन्होंने अन्य शहरों से इसका अनुसरण करने की बात भी कही है।

मोदी ने कहा कि अब इंदौर के लोग स्वच्छ भारत की रैंकिंग से संतोष होकर बैठना नहीं चाहते हैं। आगे बढ़कर कुछ नया करना चाहते हैं। वाटर प्लस सिटी यानी जहां बिना ट्रीटमेंट के कोई भी सीवरेज सार्वजनिक जलस्रोत में नहीं डाला जाता है। नागरिकों ने खुद आगे आकर घर से निकलने वाले सीवरेज को सीवरेज लाइनों में जोड़ा है, जिससे कान्ह-सरस्वती नदी में गिरने वाला गंदा पानी कम हुआ है। 

मन की बात में बोले पीएम मोदी: टोक्यो ओलिंपिक में तिरंगा देखकर देश रोमांचित हो उठा

10 एसटीपी प्लांट बनाए : निगमायुक्त
निगमायुक्त प्रतिभा पाल ने पीएम की सराहना पर आभार व्यक्त किया है। उन्होंने बताया कि 7 हजार से अधिक नागरिकों ने सीवरेज के पानी को खुद के खर्च से  मेन लाइन से कनेक्ट किया है। वाटर प्लस सर्वे के मापदंडों के तहत गंदे पानी को ट्रीटमेंट प्लांट में पहुंचाया। इसे 10 एसटीपी प्लांट में ट्रीट कर 30 प्रतिशत ट्रीटेट वाटर को रियूज किया है। ट्रीटेट पानी का उद्यानों, फव्वारे, शौचालय की सफाई में उपयोग किया है। कबीटखेड़ी में खेती के लिए रियूज पानी दिया है।