डब्ल्यूएचओं की 10 सदस्यीय टीम पहुंची चीन, वुहान में कहां से कोरोना की शुरुआत हुई इसका पता लगाएगी

 14 Jan 2021 04:22 PM

नई दिल्ली। विश्व स्वास्थ्य संगठन यानी डब्ल्यूएचओ की 10 सदस्यीय टीम गुरुवार को चीन पहुंची। यह टीम जांच करेगी की वुहान में कहां से कोरोना वायरस पैदा हुआ है। इस बीच कोरोना मरीजों को लेकर चीन की हेराफेरी सामने आने लगी है। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि 12 जनवरी को कई महीनों बाद वहां संक्रमण के 100 से ज्यादा नए मामले सामने आए। इन 115 मामलों में से 107 स्थानीय स्तर पर संक्रमण के हैं। बाकी बाहर से आए लोगों से जुड़े हैं।

आयोग ने कहा कि 90 मामले हेबेई प्रांत, 16 मामले हेईलोंग जियांग राज्य और एक शांग्सी प्रांत में सामने आए। अगस्त के बाद से चीन में एक दिन में 100 से ज्यादा मामले नहीं देखे गए थे। चीन पर पिछले साल से कोरोना फैलाने का आरोप लग रहा है। अमेरिका ने तो यह भी दावा किया कि वायरस उसकी लैब में विकसित हुआ है, जिससे पूरी दुनिया संकट का सामना कर रही है।

ब्राजील ने चीन की वैक्सीन को लेकर बड़ा दावा किया है। उसके वैज्ञानिकों का कहना है कि सिनोवैक बायोटेक द्वारा विकसित कोरोना वैक्सीन कोरोना के खिलाफ सिर्फ 50.4% ही असरदार है। अगर वैज्ञानिकों का ये दावा सही है तो ये टीका दुनिया में विकसित दूसरे टीकों में सबसे कम प्रभावी है। पिछले हफ्ते ही इस टीके के तीसरे चरण के ट्रायल का डेटा आया था। तब उसे 75% असरदार बताया गया था।