बिल और मेलिंडा गेट्स ने लिया तलाक, समाजसेवा साथ-साथ करते रहेंगे

 04 May 2021 11:39 PM

न्यूयॉर्क। अरबपति समाजसेवी बिल और मेलिंडा गेट्स ने तलाक की घोषणा करते हुए अपनी 27 साल की शादी को तोड़ने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि हमारा अब यही मानना है कि अब हम एक दंपति के रूप में साथ नहीं रह सकते हैं, लेकिन अपनी संस्था में हम साथ काम करते रहेंगे। ट्विटर पर एक संयुक्त बयान में दोनों ने कहा कि काफी सोच विचार करने और अपने संबंधों पर काम करने के बाद हमने अपनी शादी को खत्म करने का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि पिछले 27 साल से अधिक समय से वे एक संस्था चला रहे हैं, जो दुनिया भर में लोगों को स्वस्थ एवं बेहतर जीवन जीने में सक्षम बनाने के लिए काम करती है।

माइक्रोसॉफ्ट के दफ्तर में ही हुई थी मेलिंडा से मुलाकात

बिल और मेलिंडा ने कहा- हम जीवन के एक नए दौर में प्रवेश कर रहे हैं, ऐसे में हम अपने परिवार के लिए निजता चाहते हैं।सिएटल स्थित संस्था बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की कुल संपत्ति 2019 में 43.3 अरब डॉलर थी। माइक्रोसॉफ्ट के सह-संस्थापक बिल (65) और मेलिंडा (56) की मुलाकात कंपनी में ही हुई थी। मेलिंडा 1987 में माइक्रोसॉफ्टट में एक प्रोडक्ट मैनेजर के तौर पर काम करती थीं तभी दोनों की मुलाकात हुई थी। कुछ साल तक डेट करने के बाद दोनों ने 194 में हवाई में विवाह कर लिया। दंपति के तीन बच्चे हैं। हालांकि अभी भी दोनों संस्था के सहअ ध्यक्ष और न्यासी बने रहेंगे। बयान के अनुसार -संस्था की रणनीति को आकार देने तथा उसकी स्वीकृति के लिए, संस्था के मुद्दों की हिमायत करने और संस्था के संपूर्ण मार्गदर्शन के लिए दोनों साथ काम करते रहेंगे। बिल गेट्स पूर्व में दुनिया के सबसे अमीर शख्स रह चुके हैं और उनकी संपत्ति 100 अरब डॉलर से भी अधिक होने का अनुमान है। उन्होंने एक बयान में कहा- हमने तीन प्यारे बच्चों की परवरिश की और एक संस्था बनायी जो दुनिया भर में लोगों को स्वस्थ एवं बेहतर जीवन जीने में सक्षम बनाने के लिए काम करती है। मेलिंडा गेट्स ने 2019 में प्रकाशित अपने संस्मरण ‘द मोमेंट आफ लिट’ में अपने बचपन और जीवन से जुड़े संघर्षों के बारे में बताया है। उन्होंने एक जानी- मानी शख्सियत की पत्नी होने तथा घर पर तीन बच्चों की परवरिश करने जैसे निजी संघर्षों का भी जिक्र किया है। पिछले साल बिल गेट्स ने कहा था कि परमार्थ कार्यों में ध्यान देने के लिए वह माइक्रोसॉफ्ट के बोर्ड से हट रहे हैं।