वैक्सीन लोगों को बना रही बंदर, ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन पर रूस ने फैलाई अफवाह

 16 Oct 2020 10:22 PM  97
मॉस्को।ऑक्सफोर्ड की कोरोना वैक्सीन को घटिया साबित करने के लिए रूस में कैंपेन चलाया जा रहा है। कैंपेन का मकसद इस वैक्सीन के प्रति लोगों में डर पैदा करना है। कैंपेन में यह दावा भी किया जा रहा है कि इससे लोग बंदर बन जाएंगे, क्योंकि इसमें चिपैंजी के वायरस का इस्तेमाल किया जा रहा है। इस कैंपेन का मकसद पूरी तरह से ऑक्सफोर्ड के वैक्सीन प्रोग्राम को चोट पहुंचाने का लग रहा है। जिसकी एक बड़ी वजह ये है कि रूस जिन देशों में अपनी वैक्सीन स्कूतनिक-वी को बेचना चाहता है, वहां पर इसका ब्रिक्री को प्रभावित किया जाए।
रूस के सोशल मीडिया पर सर्कुलेट हो रहे इस कैंपेन में तस्वीर और वीडियो क्लिप्स से बताया जा रहा है कि कोई भी वैक्सीन जिसे ब्रिटेन में तैयार गई है वह खतरनाक हो सकती है।
गौरतलब है कि कुछ तस्वीरें और वीडियो रूस के टीवी प्रोग्राम वेस्ती न्यूज पर दिखाया गया है। एक तस्वीर में ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन डाउनिंग स्ट्रीट में टहल रहे हैं, लेकिन, इसमें उन्हें येति की तरह बनाने के लिए उसमें छेड़छाड़ किया गया है।
एक अन्य तस्वीर में यह दिख रहा है कि एक चिंपैंन्जी एस्ट्राजेनेका दवा कंपनी के लैब कोट में है, जो यह वैक्सीन तैयार कर ही है, और सीरिंज हाथ में लिए हुए है। अमेरिका के सैम की एक अन्य तस्वीर में इस संदेश के साथ हैं- मैं चाहता हूं कि आप यह बंदर वाली वैक्सीन लगाएं।