न्यूजीलैंड की कॉन्स्टेबल जिना पहली ऐसी महिला बनी जिन्हें पुलिस ड्रेस में शामिल हिजाब को पहनने का मौका मिला

 19 Nov 2020 02:10 PM

फ्रांस में इस्लामोफोबिया के बीच न्यूजीलैंड की कॉन्स्टेबल जिना अली पहली ऐसी महिला हैं जिन्हें पुलिस की यूनिफॉर्म में शामिल हिजाब को सबसे पहले पहनने का अवसर मिला। यहां मुस्लिम महिलाओं को पुलिस विभाग में लाने के लिए ये फैसला लिया गया है। 30 वर्षीय जिना पिछले साल क्राइस्ट चर्च में हुए आतंकवादी हमले के बाद पुलिस में भर्ती हुईं। वे अपनी कोशिश से मुस्लिम समुदाय की मदद करना चाहती हैं। 


मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक जिना ने पुलिस के साथ मिलकर अपने यूनिफॉर्म का डिजाइन तैयार किया है। उन्होंने कहा, मुझे बाहर निकलने योग्य होने और न्यूजीलैंड पुलिस की यूनिफॉर्म हिजाब को दिखाने पर काफी खुशी हो रही है। मैंने यूनिफॉर्म की डिजाइनिंग में विशेष रूचि ली थी। जीना ने बताया कि उन्हें अपने समुदाय का खास कर महिलाओं का प्रतिनिधित्व करते हुए काफी गर्व होता है। उनका मानना है कि यूनिफॉर्म के तौर पर हिजाब को लागू किए जाने से अन्य महिलाओं को पुलिस बल में आने के लिए बढ़ावा मिलेगा। जिना ने कहा, पुलिस-ब्रांडेड-हिजाब होने का मतलब है महिला।
पहले माना जाता था कि महिलाएं पुलिस का हिस्सा नहीं बन सकतीं मगर अब आवेदन दे सकती हैं। मेरे धर्म और संस्कृति को शामिल कर पुलिस ने अद्भुत मिसाल पेश की है।  फिजी में पैदा हुई जिना बचपन में अपने परिवार के साथ न्यूजीलैंड आ गई थीं। उनका मानना है कि समुदाय की मदद करने के लिए ज्यादा मुस्लिम महिलाओं की जरूरत है क्योंकि उनमें से अधिकतर पुलिस से बात करने से भयभीत रहती हैं और हो सकता है अगर कोई उनसे बात करने आए तो दरवाजा बंद कर लें।