उत्तर कोरिया संग परमाणु ताकत बढ़ा रहा पाकिस्तान

 10 Jun 2021 01:42 AM

इस्लामाबाद। परमाणु बम व विनाशक मिसाइलों से लैस उत्तर कोरियाई तानाशाह किम जोंग के साथ भारत के धुर विरोधी देश पाकिस्तान की दोस्ती लगातार बढ़ती जा रही है। उ. कोरिया व पाक की इस नापाक दोस्ती में चीन मजबूत कड़ी की भूमिका निभा रहा है। इस बीच भारतीय सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि उ. कोरिया के 1,718 जहाजों ने पिछले 3 साल में दुनिया के कई देशों का रहस्यमय दौरा किया है। ऐसे में यह संदेह बढ़ रहा है कि कहीं उ. कोरिया, पाक को लंबी दूरी तक मार करने वाली मिसाइलों की तकनीक व परमाणु बम बनाने की टेक्नोलॉजी में मदद तो नहीं कर रहा है। यह आशंका ऐसे समय पर जताई जा रही है जब गुजरात के कांडला बंदरगाह पर पिछले साल एक चीनी जहाज डाई सू यन से भारतीय जांच एजेंसियों ने आटोक्लेव बरामद किया था। आटोक्लेव को मिसाइलों की मारक क्षमता बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

तकनीक की तस्करी की खबरें पहले भी आई थीं

बता दें कि जांच में पता चला था कि चीनी जहाज चोरी से कराची बंदरगाह जा रहा था। रिपोर्ट के मुताबिक यह आटोक्लेव पाक की शाहीन मिसाइल के लिए इस्तेमाल किए जाने वाला था। उत्तर कोरिया, चीन और पाकिस्तान के बीच हथियारों और उनकी तकनीक की तस्करी को लेकर पहले भी खबरें आती रही हैं।

अमेरिका को भी चिंता

उत्तर कोरयिाई जहाजों की इस मूवमेंट पर अमेरिका ने भी चिंता जताई है। अभी तक यह पता नहीं चल पाया है कि उत्तर कोरिया के 1,718 जहाजों में से कितने चीन या पाकिस्तान गए और इनमें क्या सामान लदा हुआ था।