अवैध कब्जे पर फिलीपींस ने गाली देकर बोला- ‘तुरंत खाली करो द्वीप’

 04 May 2021 02:16 AM

मनीला। दक्षिण चीन सागर में द्वीप पर अवैध कब्जे को लेकर चीन व फिलीपींस के बीच विवाद लगातार गंभीर होता जा रहा है। अब फिलीपींस के विदेश मंत्री टेडी लोक्सिन जूनियर ने ट्विटर पर राजनयिक शिष्टाचार को भूलते हुए सीधे चीन को गाली दी है। उन्होंने चीन पर दोस्ती न निभाने का आरोप लगाते हुए कहा कि चीन को तुरंत द्वीप को छोड़कर वापस लौट जाना चाहिए। कुछ दिन पहले ही फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने कहा था कि चीन के साथ युद्ध के अलावा और कोई रास्ता नहीं है। फिलीपींस के अनुरोध को भाव नहीं दे रहा चीन: फिलीपींस विदेश मंत्रालय ने शनिवार को चीन के सामने अनुरोध किया था कि हमारे द्वीप पर कब्जा जमाए चीनी कोस्टगार्ड के शिप फिलीपींस के जहाजों को परेशान कर रहे हैं। इससे पहले भी फिलीपींस ने कम से कम दर्जनों बार चीन के समक्ष इस द्वीप पर अवैध कब्जे को लेकर शिकायत की है, लेकिन हर बार की तरह चीन ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया। चीनी विदेश मंत्रालय ने तो फिलीपींस के द्वीप को अपने देश का हिस्सा करार दिया है। फिलीपींस के विदेश मंत्री टेडी लोक्सिन जूनियर ने अपने निजी ट्विटर अकाउंट पर लिखा कि चीन, मेरे दोस्त, मैं इसे कितनी विनम्रता से रख सकता हूं? मुझे देखने दो ... ‘गेट द फ... आउट’। ‘आप हमारी दोस्ती के लिए क्या कर रहे हैं? आप नहीं केवल हम कर रहे हैं।’

राष्ट्रपति दुतेर्ते युद्ध को बता चुके हैं अंतिम विकल्प

फिलीपींस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने चीन से बढ़ते खतरे को लेकर जंग को एकमात्र उपाय बताया है। उन्होंने कहा, दक्षिण चीन सागर में चीन के साथ युद्ध के अलावा और कोई रास्ता नहीं है। दुतेर्ते ने फिलीपींस की नौसेना की तैनाती का ऐलान करते हुए कहा कि यह संघर्ष बिना किसी खून-खराबे के अब खत्म नहीं होने वाला है। उन्होंने कहा कि दक्षिणी चीन सागर में अपने क्षेत्र को केवल शक्ति के जरिए ही वापस ले सकते हैं।

चीन मानता है अपना हिस्सा

चीन इसे दक्षिण चीन सागर के स्प्रैटली द्वीप समूह के व्हिटसन रीफ का हिस्सा मानता है। जुलिना फेलिप रीफ पर कब्जे के लिए फिलीपींस की नौसेना ने कई बार प्रयास भी किया है, लेकिन उन्हें चीनी नौकाओं ने खदेड़ दिया। फिलीपींस के रक्षा मंत्री डेल्फिन लोरेन्जाना ने कहा कि हम द्वीप पर कब्जा नहीं जमा सके हैं।

नहीं हुआ विरोध का असर

फिलीपींस के विदेश मामलों के विभाग (डीएफए) ने पेइचिंग के समुद्री मिलिशिया की अवैध उपस्थिति को लेकर कई बार राजनयिक विरोध भी जताया है। मनीला में स्थिति चीनी दूतावास के अधिकारियों को कई बार तलब भी किया गया है, लेकिन इसका कोई प्रभाव पड़ता दिख नहीं रहा।

चीन ने फिलीपींस के रीफ पर जमा रखा है कब्जा

विवादित समुद्री सीमा पर नजर रखने वाली एक सरकारी संस्था ने कहा, चीन की नौसेना के 4 पोतों सहित चीनी ध्वज युक्त जहाजों का चीन के कब्जे वाले मानवनिर्मित द्वीप पर जमावड़ा लगना नौवहन एवं समुद्री जीवन की सुरक्षा के लिए घातक है और इससे प्रवाल भित्तियों को खतरा पहुंच सकता है।