कोरोना कर्फ्यू में खूनी खेल : जबलपुर में देर रात जमकर चली तलवारें, एक की मौत और कई हुए घायल

 07 Jun 2021 12:29 PM

जबलपुर. कोरोना कर्फ्यू के बीच रविवार को दो गुटों में खूनी खेल हो गया। देर रात तक जमकर तलवार, रॉड और चाकू चलीं, जिसमें एक युवक की मौत हो गई, वहीं दोनों पक्षों के 7 लोग घायल हो गए हैं।

तिलवारा से शुरू हुआ झगड़ा, गढ़ा में खूनी खेल

एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने बताया कि इस विवाद की शुरुआत तिलवारा के पास हुई थी, इसके बाद एक पक्ष थाने में रिपोर्ट कराने के बाद गढ़ा थाना अंतर्गत मढ़िया पहुंचा और फिर खूनी संघर्ष में 18 वर्षीय विवेक झारिया की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि विवेक झारिया की मौत तलवार लगने व ज्यादा खून बह जाने की वजह से हुई है।

पुरानी रंजिश का है मामला

पुलिस के मुताबिक गढ़ा क्षेत्र के गौतम मढ़िया के पास रहने वाले चक्रवर्ती और सड़क के दूसरी ओर रहने वाले सौरभ ठाकुर के बीच कुछ समय से पुराना विवाद चल रहा है।रविवार रात लगभग 9 बजे गौतम मढ़िया निवासी सौरभ ठाकुर (22) अपने दोस्त आकाश पटेल व राहुल ठाकुर के साथ एक बाइक से तिलवारा नर्मदा दर्शन करने के लिए निकला था। मौका पाते ही चक्रवर्ती परिवार के नितिन चक्रवर्ती, करन चक्रवर्ती, सचिन चक्रवर्ती और अन्य तीन-चार लड़कों ने शनि मंदिर के पास सौरभ ठाकुर और उसके दोस्तों पर हमला कर दिया। तीनों ने जैसे तैस जान बचाई और खेत की ओर भागे।

यह भी पढ़ें : रीवा में पकड़ा गया 2 करोड़ 25 लाख रुपए का गांजा

फोन कर परिवार और दोस्तों को बुलाया

सौरभ ठाकुर ने अपने ऊपर हुए हमले की सूचना परिवार और दोस्तों को दी। जानकारी मिलते ही शारदा चौक निवासी विवेक झारिया (18), वैभव पटेल, रंजीत सिंह, नितिन चक्रवर्ती, रोहित झारिया, यश केवट सहित कई लोग वहां पहुंचे और सौरभ ठाकुर व उसके साथियों को लेकर तिलवारा थाने पहुंचे और रिपोर्ट कराई। इसके बाद सभी गौतम की मढ़िया पहुंचे, जहां चक्रवर्ती परिवार के लोग पहले से हथियारों से लैस थे। रात लगभग 11 बजे गौतम की मढ़िया में दोनों पक्षाें में खूनी झड़प हो गई, दोनों ओर से एक-दूसरे पर तलवार, डंडे, चाकू से हमला हुआ।

युवक की हत्या कर दी, पुलिस को भनक तक नहीं लगी

चक्रवर्ती परिवार के सचिन चक्रवर्ती, नितिन चक्रवर्ती, गोपाल चक्रवर्ती, करण चक्रवर्ती, रंजीत चक्रवर्ती, विक्की उर्फ अरुण चक्रवर्ती, तरुण चक्रवर्ती एवं अम्मू तथा अन्य पांच-सात लोगों ने मिलकर विवेक झारिया (18) को सिर, चेहरे, गर्दन पर लाठी, रॉड व चाकू से कई वार कर मौत के घाट उतार दिया। वहीं वैभव पटेल, आकाश पटेल, रंजीत सिंह, नितिन चक्रवर्ती, रोहित झारिया, यश केवट आदि को भी खून से लथपथ कर दिए। पूरी सड़क पर खून बिखरा था। इस मामले में विवेक झारिया के दोस्त सौरभ ठाकुर की शिकायत पर तिलवारा में रास्ता रोकने, मारपीट व बलवा का प्रकरण दर्ज किया गया है। वहीं मृतक विवेक के भाई की शिकायत पर गढ़ा पुलिस ने मारपीट, बलवा, हत्या के प्रयास, हत्या व आर्म्स एक्ट का प्रकरण दर्ज किया।

जबलपुर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...