स्कूली बच्चों के अभिभावकों के टीकाकरण पर जोर, कलेक्टर ने दिए स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश

 15 Jun 2021 12:14 PM

जबलपुर. जबतक बच्चों की वैक्सीन नहीं आ जाती तबतक अभिभावकों से भी उन्हें कोरोना का खतरा हो सकता है। इसे देखते हुए कलेक्टर कर्मवीर शर्मा ने स्कूली बच्चों के अभिभावकों के टीकाकरण पर जोर दिया है। उन्होंने अभिभावक अभियान की समीक्षा करते हुए स्कूल शिक्षा विभाग के अधिकारियों को जरूरी दिशा-निर्देश भी दिए।

संभावित तीसरी लहर से बच्चों को बचाना है

कलेक्टर ने सोमवार शाम वर्चुअल मीटिंग के जरिए इस अभियान की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे शाला प्रचार्यों एवं शिक्षकों को उनकी शाला में अध्ययनरत प्रत्येक बच्चे के अभिभावकों से व्यक्तिगत रूप से संपर्क कर उन्हें टीकाकरण के लिए प्रेरित करें। कलेक्टर ने निर्देश देते हुए कहा कि स्कूली बच्चों के अभिभावकों के टीकाकरण का लक्ष्य हर हाल में पूरा करना होगा। इससे संभावित तीसरी लहर से लड़ने में मदद मिलेगी।

ये भी पढ़ें : जबलपुर पुलिस ने कोरोना काल में जान गंवाने वालों को दी श्रद्धांजलि

हर तीन घंटे में रिपोर्ट दें

कलेक्टर ने आगे कहा कि शहर के प्रत्येक वार्ड के स्कूलों में स्थापित टीकाकरण केंद्रों में वेक्सीनेशन के कार्य की हर तीन घंटे में रिपोर्ट दें। उन्होंने वेक्सीनेशन केंद्रों की कोरोना कन्ट्रोल रूम से नियमित मॉनिटरिंग की आवश्यकता भी बताई और अधिकारियों को लगातार इन केंद्रों का भ्रमण करने के निर्देश दिए ।

जबलपुर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...