50 लाख से अधिक 18+ ने टीका लगवाने किया प्री रजिस्ट्रेशन, स्लॉट चयन बिना पहुंच रहे केंद्र

 15 May 2021 11:59 PM

जबलपुर । मप्र में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के कारण युवाओं के मन में टीका लगवाने का डर व उत्साह का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वह स्लॉट का चयन किए बिना ही कई युवा टीका लगवाने केंद्र पहुंच रहे हैं। जिसमें कुछ युवाओं का कहना है कि स्लॉट फुल होने के कारण सीधा केंद्र पहुंच रहे हैं, तो कुछ स्लॉट बुकिंग की प्रक्रिया शुरू करते ही फुल होने की जानकारी बताकर टीका लगवाना चाहते हैं। जानकारी के अनुसार प्रदेश में करीब 50 लाख से अधिक युवाओं ने टीका लगाने के लिए कोविन व आरोग्य सेतु मोबाइल एप में रजिस्ट्रेशन किया है। जिसमें जबलपुर के 14 लाख युवा शामिल हैं। 18 से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगाने की प्रक्रिया कठिन व सीमित संख्या करने के पीछे राज्य व जिले में वैक्सीन की कमी बताई जा रही है। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ एसएस दाहिया का कहना है कि वैक्सीन की उपलब्धता कम होने के कारण केंद्र की संख्या सीमित है। जैसे-जैसे वैक्सीन आती जाएगी, वैसे-वैसे केंद्रों की संख्या में वृद्धि होती जाएगी।

2 बार करना होता है रजिस्ट्रेशन

कोरोना टीकाकरण के तीसरे चरण में आॅनलाइन रजिस्ट्रेशन करवाने वालों को टीका लगाया जाएगा। रजिस्ट्रेशन की पहली प्रक्रिया में संबंधित व्यक्ति का नाम, पिता का नाम, पता, उम्र, मोबाइल नंबर व आधार कार्ड नंबर की जानकारी भरना और दूसरे रजिस्ट्रेशन में केंद्र का चयन करना होता है। टीकाकरण के एक दिन पहले सुबह 9 बजे से 11 बजे के लिए स्लॉट चयन की प्रक्रिया चलती है। स्लॉट चयन के बाद संबंधित मोबाइल नंबर पर 4 अंकों का ओटीपी आता है जिसे केंद्र में बताने के बाद ही टीका लगाया जाता है।