घर से दफ्तर जाने निकला था रेलकर्मी और अस्पताल के सामने मौत ने गले लगाया, डर के कारण किसी ने सड़क से नहीं उठाया

 03 May 2021 06:50 PM

जबलपुर. कोरोना काल में घर से ड्यूटी के लिए निकले रेलकर्मी को मौत ने गले लगा लिया। घटना मदनमहल क्षेत्र के आशीष हॉस्पिटल के पास की है। रेलकर्मी की तेज रफ्तार मोपेड अचानक स्लिप हुई और सड़क पर गिरकर उसकी मौत हो गई।  पुलिस ने मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया है।

ऐसे हुआ हादसा

मदनमहल पुलिस के मुताबिक कछपुरा रेलवे क्वार्टर निवासी जीत बहादुर थापा (47) रेलवे में कार्यरत था। रोज की तरह सुबह वह घर से एक्सेस मोपेड एमपी 20 एसयू 6827 से जबलपुर रेलवे स्टेशन की ओर निकला। करीब 9 बजे वह जैसे ही होम साइंस कॉलेज के पास आशीष हॉस्पिटल अस्पताल के सामने पहुंचा, तो गाड़ी अचानक स्लिप हो गई। गाड़ी से उछलकर जीत बहादुर सड़क पर गिरा और उसका सिर जोर से सड़क से टकराया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

अस्पताल के सामने ही हो गई मौत

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक तेज रफ्तार मोपेड से जीत बहादुर इतनी तेजी से गिरा कि उसकी तत्काल मौत हो गई। अस्पताल के सामने ही उसने दम तोड़ दिया। खबर लगते ही मदन महल पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस के मुताबिक कोरोना के डर से मृतक को किसी ने सड़क से नहीं उठाया था। पुलिस ने उसके जेब से मिले दस्तावेजों से उसकी पहचान की।