केरल: बीटेक फर्स्ट इयर के छात्र ने बनाया माइक-स्पीकर वाला मास्क, डॉक्टरों को बातचीत में होगी आसानी

 24 May 2021 10:20 AM

नई दिल्ली। देश में कोरोना की दूसरी लहर का कहर लगातार बरकरार है। ऐसे में लगभग सभी लोग मास्क पहनकर अपना बचाव कर रहे हैं। कई राज्यों में तो मास्क नहीं पहनने पर भारी जुर्माना लगा रखा है। ऐसे में किसी से बातचीत के दौरान मास्क बाधा बनता है। एक तो सोशल डिस्टेंसिंग के चलते दूर से ही बात करना ऊपर से यह मास्क। सामने वाले तक अपनी बात पहुंचाना मुश्किल होता है। कोरोना की इस घड़ी में मेडिकल क्षेत्र से जुड़े लोगों को इस समस्या का खासा सामना करना पड़ रहा है। 

इस दिक्कत को दूर करने के लिए केरल के त्रिशूर में बीटेक फर्स्ट इयर के छात्र केविन जैकब ने माइक और स्पीकर वाला मास्क डिजाइन किया है। इस मास्क के जरिए डॉक्टरों को अपने मरीजों से संवाद करने में आसानी होगी। जैसा कि आप जानते हैं कि कोरोना संक्रमण की वजह से डॉक्टर या अन्य मेडीकल स्टॉफ डबल मास्क और पीपीई किट पहने होता है जिसके कारण मरीजों से संवाद ठीक से नहीं हो पाता, अब इस आविष्कार से मरीजों से संवाद सही तरीके से हो सकेगा।

डॉ. माता-पिता को हो रही थी समस्या
केविन जैकब के के माता पिता पेशे से डॉक्टर हैं। केविन ने बताया कि उसके माता-पिता डॉक्टर हैं और उन्हें कोरोना वायरस की शुरुआत के बाद से अपने मरीजों  के साथ संवाद करने में समस्या आ रही है।  साथ ही बताया कि उनका मास्क और फेस शील्ड पहन कर मरीजों से स्पष्ट रूप से संवाद करना मुश्किल लगा। उन्हें देखकर केविन के मन में यह विचार आया।