मानसरोवर आयुर्वेदिक मेडिकल काॅलेज में सायटिका रोग विषय पर हुआ सेमिनार

 28 Dec 2020 02:44 PM

भोपाल। मानसरोवर आयुर्वेदिक मेडिकल काॅलेज एवं रिसर्च सेंटर द्वारा साइटिका रोग पर सेमिनार का आयोजन किया गया। इस दौरान साइटिका रोग के कारण एवं औषधीय उपचार विषय विस्तार से चर्चा की गई।

सेमिनार  का शुभारंभ करते हुए मानसरोवर आयुर्वेदिक मेडिकल काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. अनुराग सिंह राजपूत ने कहा कि वर्तमान परिपेक्ष्य में आधुनिक जीवनषैली एवं खानपान के कारण वृद्धावस्था में होने वाली इस बीमारी के लक्षण अब युवावस्था में भी दिखाई देने लगे हैं। सर्वेक्षण के अनुसार भारत में 100 में से लगभग 5 व्यक्ति इस रोग से पीडित हैं।

इसी कड़ी में वरिष्ठ प्रोफेसर डाॅ. सी.पी. शर्मा ने आयुर्वेदिक ग्रंथों में वर्णित चिकित्सीय संदर्भों की व्याख्या की, वहीं रचना शरीर विभाग के वरिष्ठ प्रोफेसर डाॅ. अषोक गुप्ता ने सायटिका की एनाॅटाॅमी को समझाया। शल्य तंत्र विभाग के डाॅ. श्रीकांत पटेल ने इस रोग में रक्तमोक्षण एवं अग्निकर्म के महत्व को बतलाया। कायाचिकित्सा विभागाध्यक्ष डाॅ. सतीष अग्रवाल एवं डाॅ. मनोज वर्मा ने सेमिनार का मार्गदर्षन किया। अंत में डीन डाॅ. मनीषा राठी ने कहा कि इस रोग पर अपने विचार व्यक्त करते हुए आभार व्यक्त किया।

मानसरोवर ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूषन्स के सीईडी इंजी. गौरव तिवारी ने संस्था में होने वाले क्लीनिकल सेमिनार के आयोजन की प्रषंसा करते हुए भावी चिकित्सकों को बधाई दी। सेमिनार में मंच का संचालन डाॅ. श्रुति सिंह एवं डाॅ. राजेन्द्र सिंह पटेल ने किया।