साल का पहला सूर्यग्रहण दुनिया के तमाम देशों में दिखा, आग के छल्ले जैसा नजर आया सूरज, देखें तस्वीरें

 10 Jun 2021 07:00 PM

नई दिल्ली। साल का पहला सूर्यग्रहण दुनिया के तमाम देशों में देखने को मिला। गुरुवार शाम 6 बजकर 41 मिनट पर समाप्त हो गया। यह ग्रहण करीब 5 घंटे तक लगा रहा। सूर्यग्रहण आकाश में रिंग ऑफ फायर की तरह नजर आया। ग्रहण का दृश्य क्षेत्र अमेरिका, यूरोप, उत्तरी कनाडा, एशिया, रूस और ग्रीनलैंड में देखा गया। भारत में यह अरुणाचल प्रदेश और लद्दाख के कुछ भागों में करीब 6 बजे के आसपास आंशिक रूप से देखा गया। यहां ग्रहण का सूतक काल मान्य नहीं है। यह ग्रहण वृष राशि और मृगशिरा नक्षत्र में लगा है। साल का दूसरा सूर्यग्रहण 4 दिसंबर को लगेगा। यह पूर्ण सूर्यग्रहण होगा, भारत में नहीं दिखाई देगा।

 

मान्यता के अनुसार, सूर्यग्रहण के समाप्त होने पर स्नान करना चाहिए। स्नान के बाद घर में गंगाजल छिड़कें, घर के मंदिर में स्थापित मूर्तियों को भी गंगाजल से शुद्ध करें और फिर पूजा-पाठ करें। ग्रहण के बाद ये उपाय करने से आपके ऊपर ग्रहण की काली छाया दूर हो सकती है।  

आज के वलयाकार सूर्यग्रहण की दुनियाभर से शानदार तस्वीरें देखने को मिली हैं। दुनिया में जगह-जगह जहां भी आज सूर्य ग्रहण लग रहा है वहां पर अब अंधेरा छाने लगा है। नासा भी सूर्य ग्रहण की लगातार फोटो शेयर कर रहा है।

ग्रहण काल में किसी भी तरह का कोई भी शुभ कार्य करने से बचना चाहिए। मान्यता है कि ग्रहण काल में किया गया कोई भी शुभ कार्य सफल नहीं होता है। इसके साथ ही ग्रहण के दौरान बाल और नाखून काटने से बचना चाहिए। इसके अलावा न तो कुछ खाना चाहिए और न ही खाना बनाना चाहिए।

ग्रहण को लेकर मान्यता
मान्यता के अनुसार, सूर्यग्रहण के दौरान महामृत्युंजय मंत्र या भगवान शिव के नाम का जाप करें अथवा ग्रहण के प्रभावों से बचने के लिए सूर्यग्रह के बीज मंत्र का जप करना चाहिए। इससे आपके ऊपर ग्रहण का प्रभाव नहीं पड़ेगा। सूर्य ग्रह के बीज मंत्र का 108 बार जप करना चाहिए। सूर्य ग्रह का बीज मंत्र - ॐ घृणि: सूर्याय नम:।