अच्छी पहल: हरियाणा में जरूरतमंद महिलाओं तक स्टूडेंट्स पंहुचा रहे लाइफटाइम सैनेटरी पैड

 22 Nov 2020 01:03 PM

रोहतक: पीरियड। जिसे मासिक धर्म, माहवारी, रजोधर्म, मेंस्ट्रुअल साइकिल या एमसी के नाम से भी जाना जाता है। जितने इसके नाम हैं उतने ही कम स्तर पर लोग इसके बारे में बात करते हैं। नतीजन महिलाएँ कई बीमारियों का शिकार होती हैं। इसी बीच कई बार ऐसी कहानियां भी सामने आती हैं जिन्होंने लाखों महिलाओं की जिंदगी सवारी है। इन्हीं में से एक कहानी है हरयाणा के हिसार की। यहाँ  जीजेयू के एनएसएस से जुड़े कुछ स्टूडेंट्स ने जम्भ शक्ति संस्था के साथ मिलकर एक मुहिम शुरू की है। इस मुहिम के तहत स्टूडेंट्स महिलाओं तक लाइफटाइम सैनेटरी पैड पहुंचाते हैं।  

जीजेयू के एक स्टूडेंट ने बताया कि ग्रामीण इलाकों में अभी भी महिलाओं को मासिक धर्म के बारे में सही जानकारी नहीं है। इस आभाव में वो लोग माहवारी के दौरान कपड़े का इस्तेमाल करती हैं। इससे ना सिर्फ उन्हें इंफेक्शन बल्कि गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं। महिलाओं तक जागरूकता पहुंचाने के लिए इस अभियान की शुरुआत की गई जिससे अभी तक  करीब 2 हजार महिलाएं जुड़ चुकी है। अच्छी बात यह है की हर दिन ये स्टूडेंट्स ज़्यादा से ज़्यादा महिलाओं से जुड़ रहें हैं। इस अभियान को अभी हिसार, रेवाड़ी, जींद और गुरुग्राम में शुरू किया गया है। स्टीडेंट्स का कहना है की इसे पूरे हरियाणा में पहुंचाया जाएगा।