हरियाणा में सरकार पर संकट? शाह के पीएम मोदी से मिले डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला, किसान आंदोलन पर चर्चा

 13 Jan 2021 06:34 PM

नई दिल्ली। कृषि कानूनों के विरोध में 49 दिन से आंदोलन चल रहा है। इस बीच, हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। इसमें किसान आंदोलन को लेकर बातचीत हुई। इससे पहले मंगलवार को मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर और चौटाला गृहमंत्री अमित शाह से मिले थे।

चौटाला हरियाणा में भाजपा सरकार में गठबंधन साझेदार जननायक जनता पार्टी (जजपा) के नेता हैं। माना जा रहा है कि जजपा के कुछ विधायक प्रदर्शनकारी किसानों के दबाव में हैं। 

मंगलवार को शाह के साथ बैठक के बाद खट्टर और चौटाला ने कहा था कि भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार को कोई खतरा नहीं है और यह सरकार पांच साल का अपना कार्यकाल पूरा करेगी। उन्होंने कहा था कि बैठक में राज्य में मौजूदा कानून-व्यवस्था की स्थिति के बारे में बातचीत की गई है।

बैठक के बाद शाह ने कहा कि प्रदेश में राजनीतिक स्थिति ठीक है। विपक्ष और मीडिया की अटकलें निराधार हैं। खट्टर ने कहा कि हमारी सरकार (भाजपा- जजपा गठबंधन) मजबूती से चल रही है और अपना पांच साल का कार्यकाल भी पूरा करेगी।

इससे पहले जजपा के विधायकों के एक ग्रुप ने कहा कि अगर केंद्र सरकार कृषि कानूनों को वापस नहीं लेती है तो प्रदेश में गठबंधन सरकार को इसकी भारी कीमत चुकानी पड़ सकती है। जजपा विधायक जोगी राम सिहाग ने कहा कि केंद्र को इन कानूनों को वापस लेना चाहिए क्योंकि हरियाणा, पंजाब और देश के किसान इन कानूनों के खिलाफ हैं। उन्होंने कहा कि हम दुष्यंत जी से आग्रह करेंगे कि हमारी भावनाओं से अमित शाह जी को अवगत करा दें।