ममता बनर्जी की दोबारा काउंटिंग की मांग चुनाव आयोग ने की खारिज, नंदीग्राम के रिटर्निंग ऑफीसर को दी गई सुरक्षा

 04 May 2021 06:21 PM

कोलकाता। नंदीग्राम सीट से अपने पूर्व सहयोगी शुभेंदु अधिकारी से हार के बाद वोटों की दोबारा गिनती की ममता की मांग को चुनाव आयोग ने खारिज कर दिया है। आयोग ने कहा कि रिटर्निंग ऑफीसर का फैसला अंतिम रहेगा, उसे हाईकोर्ट में चुनौती दी जा सकती है। इसके साथ ही नंदीग्राम में रिटर्निंग ऑफीसर को सुरक्षा प्रदान की गई है।

आयोग ने मंगलवार को बयान जारी कर कहा कि - नंदीग्राम में गिनती खत्म होने के बाद एक प्रत्याशी के इलेक्शन एजेंट ने दोबारा मतगणना की मांग की थी, जिसे आरओ ने अपने सामने मौजूद तथ्यों को देखते हुए मौखिक आदेश में खारिज कर दिया। ऐसे मामले में अब हाई कोर्ट में पिटीशन दायर करने का ही विकल्प बचता है।

ममता के आरोप खारिज किए :

आयोग ने ममता बनर्जी की ओर से लगाए गए मतगणना में गड़बड़ी के आरोपों को खारिज करते हुए कहा है कि सभी काउंटिंग टेबल पर एक माइक्रो ऑब्जर्वर था और उन्होंने अपनी रिपोर्ट्स में किसी तरह की गड़बड़ी का कोई संकेत नहीं दिया है। पूरी काउंटिंग प्रक्रिया के दौरान किसी ने कोई शंका नहीं जाहिर की थी हर राउंड के बाद सभी एजेंट को रिजल्ट की कॉपी दी जा रही थी।

रिटर्निंग ऑफीसर को दी गई सुरक्षा पर चुनाव आयोग ने कहा कि नंदीग्राम के रिटर्निंग ऑफीसर पर दबाव को लेकर आई मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव को 3 मई को आदेश दिया गया कि अधिकारी को पर्याप्त सुरक्षा दी जाए।