5 मई को शपथ लेंगी ममता बनर्जी

 04 May 2021 01:08 AM

नई दिल्ली। देश में 5 राज्यों (पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, केरल, असम और पुडुचेरी) में हुए विधानसभा चुनावों का परिणाम घोषित किया जा चुका है। अब सभी 5 राज्यों में नई सरकार के गठन की तैयारियां तेज हो गई हैं। सभी राज्यों में इसी हμते सरकार का गठन होगा। रविवार को आए नतीजों के मुताबिक, बंगाल में टीमएसी, असम में भाजपा, तमिलनाडु में डीएमके, केरल में कम्युनिस्ट पार्टी और पुडुचेरी में एनडीए की सरकार बननी है। विधानसभा चुनाव में बड़ी जीत हासिल करने के बाद ममता बनर्जी 5 मई को तीसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगी। राज्य में मंत्री और सीनियर टीएमसी नेता पार्थ चटर्जी ने सोमवार को यह जानकारी दी। टीएमसी को 214 सीटें मिलीं हैं। हालांकि, खुद ममता बनर्जी नंदीग्राम सीट से चुनाव हार चुकी हैं। बहुमत होने के कारण टीएमसी सरकार बनाएगी। सोमवार शाम को ममता बनर्जी ने राज्यपाल से मुलाकात भी की। हालांकि, 66 साल की ममता बनर्जी को फिर किसी सीट से चुनाव लड़ना पड़ सकता है। इससे पहले ममता ने 20 मई 2011 को पहली और 27 मई 2016 को दूसरी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। संभवत: ममता एक हμते के अंदर ही बंगाल में नई सरकार का गठन भी कर लेंगी।

तमिलनाडु:7 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे एमके स्टालिन

विस चुनाव में एमके स्टालिन की द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) 234 में से 130 सीटें जीत चुकी है। पार्टी गठबंधन को 156 सीटें मिली हैं। बहुमत का आंकड़ा पार करने के बाद मंगलवार शाम 6 बजे डीएमके विधायकों की बैठक रखी गई है। पार्टी महासचिव दुरई मुरुगन ने बताया, बैठक चेन्नई स्थित मुख्यालय अन्ना अरिवालयम में रखी गई है। इस बैठक में डीएमके विधायक एमके स्टालिन को मुख्यमंत्री चुनेंगे।

केरलु: राज्यपाल से मिले विजयन, विधायकों की बैठक जल्द

सीएम पिनाराई विजयन ने केरल में शानदार जीत हासिल करने के बाद सोमवार को राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान से मुलाकात की। उन्होंने बताया, भारत की कम्युनिस्ट पार्टी की एग्जीक्यूटिव काउंसिल में सरकार गठन को लेकर फैसला होगा। पार्टी सूत्रों के मुताबिक, महामारी को देखते हुए सरकार गठन का काम इसी हμते पूरा हो जाएगा। लेμट डेमोक्रेटिक फ्रंट ने पूरा चुनाव सीएम पिनराई विजयन की अगुवाई में लड़ा था।

असम:सीएम पर सस्पेंस, सोनोवाल को फिर मौका या बिस्वा को

विस चुनाव में भाजपा ने लगातार दूसरी बार जीत हासिल की है। सीएम सर्बानंद सोनोवाल ने काफी मेहनत की थी, लेकिन अभी पार्टी के पास एक और बड़ा चेहरा है। ये चेहरा है हेमंत बिस्वा सरमा। हेमंत कांग्रेस में रहते हुए सीएम नहीं बन पाए थे। यही कारण है कि उन्होंने कांग्रेस छोड़कर भाजपा जॉइन की थी। अब ये देखना है कि दोनों में से किसे मुख्यमंत्री बनाया जाता है। पार्टी इनमें से किसी एक को डिप्टी सीएम भी बना सकती है।

पुडुचेरी ु:रंगास्वामी दूसरी बार बनेंगे मुख्यमंत्री, बैठक संपन्न

केंद्र शासितप्रदेश पुडुचेरी में पहली बार एनडीए की सरकार बनेगी। यहां आॅल इंडिया एनआर कांग्रेस यानी एआईएनआरसी की अगुवाई में भाजपा और एआईडीएमके ने 16 सीटों पर जीत हासिल कर पूर्ण बहुमत हासिल कर लिया है। इस तरह सीएम का पद एआईएनआरसी के अध्यक्ष एन रंगास्वामी संभालेंगे। रंगास्वामी दूसरी बार पुडुचेरी के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। सोमवार शाम पार्टी विधायकों की बैठक हुई।

भाजपा में शामिल अधिकतर उम्मीदवारों को मिली हार

प. बंगाल में टीएमसी छोड़ भाजपा में शामिल हुए अधिकतर उम्मीदवारों को विस चुनाव में हार का मुंह देखना पड़ा। हालांकि शुभेंदु अधिकारी समेत भाजपा में शामिल हुए कुछ उम्मीदवारों ने अपने बेहतर प्रदर्शन किया।

ममता अपने बयान को लेकर खूब हो रहीं ट्रोल

प. बंगाल के नंदीग्राम से भाजपा के उम्मीदवार शुभेंदु अधिकारी से चुनाव हार चुकीं सीएम ममता बनर्जी का ये बयान सोशल मीडिया पर खूब ट्रोल हो रहा है। बता दें कि उन्होंने कथित तौर पर कहा था कि अगर वह नंदीग्राम में चुनाव हार गर्इं तो वह राजनीति से संन्यास ले लेंगी।

मारे जाने के डर से अधिकारी ने नहीं कराई रीकाउंटिंग

इधर, बंगाल में जीत का परचम लहराने वालीं ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में हुई काउंटिंग पर सवाल उठाए हैं। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) प्रमुख ने सोमवार को भाजपा पर बड़े आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि उनकी हार के पीछे कई राज छिपे हुए हैं। उन्हें हराने के लिए बड़े लेवल पर फर्जीवाड़ा किया गया है। ममता ने कहा कि मुझे किसी ने मैसेज भेजा। मैसेज भेजने वाले को बताया गया है कि नंदीग्राम के रिटर्निंग आॅफिसर काउंटिंग के समय डरे हुए थे। अफसरों ने कहा है कि अगर हम फिर से काउंटिंग करवाते तो हमें जान का खतरा हो सकता है। ममता ने नंदीग्राम में हुई मतगणना पर शक जाहिर करते हुए कहा कि वहां 4 घंटे तक सर्वर डाउन रहा। इसी बीच राज्यपाल भी हमें जीत की बधाई दे चुके थे, लेकिन अचानक सब कुछ बदल दिया गया। बता दें कि ममता बनर्जी 5 मई को सीएम पद की शपथ लेंगी।