असम-मिजोरम सीमा पर हिंसा, 6 पुलिस वालों की मौत, 80 घायल

 27 Jul 2021 02:37 AM

आइजोल/हैलाकांडी असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद ने एकबार फिर हिंसक रूप ले लिया है। हिंसा में असम पुलिस के 6 जवानों की मौत हो गई है। वहीं 80 से अधिक लोग घायल हो गए। हिंसा में कई वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गए। इसबीच इस मसले पर दोनों राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने ट्वीट कर एक दूसरे के अधिकारियों पर आरोप लगाए हैं। मामला बढ़ता देख केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दोनों मुख्यमंत्रियों से बात कर शांति बनाए रखने की अपील की। विदित है कि हाल ही में अमित शाह ने पूर्वोत्तर का दौरा किया भी था। विदित है कि दोनों पड़ोसी राज्यों के बीच सीमा विवाद पुराना है। दोनों राज्यों के बीच सीमा विवाद को खत्म करने सन् 1995 के बाद से कई वार्ताएं हुईं , लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ है। मिजोरम के 3 जिले आइजोल, कोलासिब और ममित और असम के 3 जिले कछार, करीमगंज और हैलाकांडी एक दूसरे से सटे हुए हैं।

शाह के दौरे पर भी उठा था विवाद

विवाद बढ़ता देख केंद्र ने दखल दिया। दोनों राज्यों के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशकों को दिल्ली बुलाकर बैठक करवाई गई। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 24 जुलाई को दो दिनों के पूर्वोत्तर दौरे के लिए पहुंचे। 25 जुलाई को शिलांग में एक बैठक हुई, जिसमें गृह मंत्री के साथ पूर्वोत्तर के सभी राज्यों के मुख्यमंत्री भी शामिल हुए। तब इस विवाद को हल करने की अपील की थी।

इलाका खाली कराने गई थी असम पुलिस

हालिया विवाद तब गंभीर हुआ, जब असम की पुलिस ने अपना इलाका खाली कराने के लिए कुछ लोगों को खदेड़ा। असम पुलिस ने कहा कि ये लोग अतिक्रमणकारी थे। बताया जाता है कि जिन लोगों को खदेड़ा गया था वो मिजोरम से थे, इसलिए इस कार्रवाई से खटास और बढ़ गई। सीमा के दौरे पर गई असम सरकार की टीम पर 10 जुलाई को एक आईईडी बम भी फेंका गया। 11 जुलाई की सुबह मिजोरम के इलाके से एक के बाद एक दो धमाकों की आवाज आई। बताया जा रहा है कि मिजोरम-असम की सीमा पर अज्ञात बदमाशों द्वारा आठ झोपड़ियां जला दिए जाने के बाद से तनाव पैदा हो गया था।