अस्पताल में नहीं मिला बेड वकील ने सड़क पर तोड़ा दम

 04 May 2021 09:02 PM

रतलाम । एक युवा वकील ने मंगलवार को मेडिकल कॉलेज के कोविड अस्पताल सहित अन्य अस्पतालों में जगह नहीं मिल पाने के कारण बीच सड़क पर दम तोड़ दिया। ये उस समय हुआ, जब विधायक सहित तमाम अफसर मेडिकल कॉलेज में 60 बिस्तरों वाले अतिरिक्त अस्पताल का शुभारंभ कर रहे थे। बताया जाता है कि वकील सुरेश डागर की तबीयत पिछले दिनों से खराब चल रही थी। मंगलवार को जब उन्होंने अस्पताल जाने की इच्छा जताई तो भाई व मां बाइक पर बैठा कर शासकीय मेडिकल कॉलेज ले गए। मेडिकल कॉलेज में ढाई घंटे इंतजार के बाद भी उन्हें बेड नहीं मिला तो ये बंजली स्थित आयुष ग्राम निजी अस्पताल में ले गए, मगर वहां भी बेड  खाली नहीं होने का बहाना बना दिया गया। इन दोनों अस्पतालों में मनाही होने के बाद वकील के भाई अनिल और इनकी मां उन्हें अन्य अस्पताल ले जाने के लिए निकले, मगर इसी बीच शहर के राम मंदिर चौराहे पर सुरेश ने दम तोड़ दिया। उस दौरान चौराहे पर तैनात पुलिसकर्मियों ने एम्बुलेंस से शव को जिला अस्पताल पहुंचाया।