शहडोल: इंटरकास्ट की वजह से शादी नहीं कर पा रहा था प्रेमी जोड़ा, थाने पहुंचा तो पुलिस ने सात फेरे करवाए; सिपाही ने मंत्र पढ़े

 03 May 2021 03:07 PM

शहडोल। मध्य प्रदेश में एक ऐसा मामला सामने आया है, िजसमें इंटरकास्ट की वजह से प्रेमी जोड़ा शादी नहीं कर पा रहा था। ऐसे में दोनों घर से भाग निकले। बाद में थाने में पुलिस को समस्या बताई। इसके बाद पुलिस ने इस प्रेमी जोड़े की थाने में ही शादी कराकर एक अनूठी मिसाल पेश की। थाने के एक सिपाही ने वैदिक मंत्रोच्चार से दोनों की शादी कराई।

घटना शहडोल जिले के गोहपारू थाना क्षेत्र की है। यहां के सकरिया गांव में रहने वाली एक लड़की नानबाई गोड़ (22 साल) और पैलवाह का रहने वाला लड़का अनुज गुप्ता (24 साल) एक-दूसरे से प्यार करते हैं। लेकिन दोनों की जाति अलग-अलग है, जिसके चलते उनके घरवालों को दोनों का यह रिश्ता मंजूर नहीं था। ऐसे में प्रेमी जोड़ा बीती 27 अप्रैल को घर से भाग गया। दोनों के परिजनों ने पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने प्रेमी जोड़े को शहडोल से पकड़ लिया।

दोनों को थाने लाया गया लेकिन वहां दोनों के घरवालों ने समाज के डर से दोनों को अपनाने से इंकार कर दिया। पुलिस के समझाने के बाद भी जब परिवार वाले नहीं माने तो पुलिस ने दोनों की थाने में ही शादी करा दी। इस दौरान सिपाही रामानंद तिवारी ने बाकायदा पंडित की भूमिका अदा करते हुए वैदिक मंत्रोच्चार से प्रेमी जोड़े की शादी कराई। इस शादी में पुलिस ही घराती और बराती बनी।

गोहपारू थाना प्रभारी ज्योति सिकरवार ने बताया कि शादी के बाद दंपति का जीवन निर्वाह हो सके, इसलिए पुलिस की तरफ से दोनों की आर्थिक मदद भी की गई है।