शिवराज के हाईलेवल मीटिंग में बड़े फैसले; सरकारी दफ्तर अब 5 दिन खुलेंगे, नगरीय क्षेत्रों में नाइट कर्फ्यू और संडे लॉकडाउन होगा

 07 Apr 2021 10:11 PM

भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों ने सरकार की टेंशन बढ़ा दी है। बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में सीएम हाउस में हाई लेवल मीटिंग बुलाई गई। इसमें संक्रमण रोकने के महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। इस बैठक में तय किया गया कि प्रदेश के सभी शासकीय कार्यालय आगामी तीन माह तक सप्ताह में 5 दिन (सोमवार से शुक्रवार), प्रातः 10 से  शाम 6 बजे तक खुलेंगे। शनिवार और रविवार को शासकीय कार्यालय बंद रहेंगे।

इसके अलावा, प्रदेश के सभी नगरीय क्षेत्रों में 8 अप्रैल से आगामी आदेश तक रोज रात 10 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा। प्रदेश के सभी जिलों के नगरीय क्षेत्रों में अगले आदेश तक प्रत्येक रविवार लॉकडाउन रहेगा। छिंदवाड़ा जिले में 8 अप्रैल की रात 8 बजे से अगले 7 दिन तक टोटल लॉकडाउन रहेगा। शाजापुर शहर में 7 अप्रैल की रात 8 बजे से अगले 2 दिन का टोटल लॉकडाउन रहेगा।

मध्य प्रदेश में कोरोना से हालात चिंताजनक हो गए हैं। बुधवार को जबलपुर हाईकोर्ट के रिटायर्ड जस्टिस की कोरोना से मौत हो गई। वे हिमाचल जस्टिस भी रह चुके हैं। सतना में कोरोना से 52 साल के एडीजे की मौत हो गई। उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। उनकी पत्नी बीमार हैं।

प्रदेश में अभी भोपाल, इंदौर, जबलपुर, रतलाम, छिंदवाड़ा, बैतूल, उज्जैन समेत 13 शहरों में संडे लॉकडाउन लगाया जा रहा है। अब इसे पूरे प्रदेश में लागू किया जा रहा है। बुधवार रात से शाजापुर में भी 58 घंटे का लॉकडाउन लग रहा है। कटनी में नाइट कर्फ्यू रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा। उमरिया जिले में संडे लॉकडाउन का निर्णय लिया गया है। मुख्यमंत्री ने कोरोना को रोकने के लिए सभी जिलों में फैसले लेने का अधिकार क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी पर छोड़ दिया है।

मंगलवार को प्रदेश में 4043 पॉजिटिव मिले थे। इनमें भोपाल में 618 नए पॉजिटिव मिले। भोपाल में एलएन अस्‍पताल को कोविड अस्पताल घोषित कर दिया है। पीपुल्‍स हॉस्पि‍टल में कोविड मरीजों के नि:शुल्‍क इलाज के लिए 300 बेड रिजर्व करा दिए गए हैं। भोपाल में कोरोना से अब तक 640 लोगों की मौत हो चुकी है। अब तक 54637 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 49438 ठीक हो चुके हैं। करीब 4800 एक्टिव केस हैं।