बीमार को अस्पताल में नहीं मिला इलाज, आधा घंटे तड़पने के बाद मौत

 30 Apr 2021 08:54 PM

जौरा/कैलारस। मुरैना जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जौरा में एक बीमार व्यक्ति की इलाज के अभाव में आधा घंटे तड़पने के बाद मौत हो गई। बताया गया है कि शुक्रवार सुबह ग्वालियर से सबलगढ़ बस द्वारा पत्नी के साथ लौट रहे एक युवक की हालत जौरा पहुंचने पर बिगड़ गई। पत्नी उसे तिकोनिया पार्क पर उतारकर ऑटो से शासकीय स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंची। उस समय वहां न तो कोई डॉक्टर था, न कर्मचारी। एक डॉक्टर पास में ही बने पार्क में योगा कर रहे थे। उनको सूचना देने के बाद भी वे नहीं आए। इसबीच युवक ने पत्नी की गोद में ही दम तोड़ दिया। 
 जानकारी के अनुसार महिला अपने पति को सुबह 6.30 बजे अस्पताल लेकर पहुंची। वहां आध घंटे तक किसी डॉक्टर ने उसका चेकअप नहीं किया। 
इस मामले में ब्लॉक मेडिकल ऑफीसर मनोज त्यागी का कहना है कि युवक को दिल की बीमारी थी। वह बिरला अस्पताल ग्वालियर में चेकअप कराने गया था। वहां डॉक्टरों ने उसे भर्ती करने को कहा था, लेकिन परिजन उसे वापस ले आए। जब वह अस्पताल में आए तो ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर ने उसे चेक किया, लेकिन उस समय उसकी सांसें थम चुकी थीं।