ग्वालियर में दर्दनाक घटना: घर के एक दरवाजे से ननद की डोली, दूसरे से उठ रही थी भाभी की अर्थी

 04 May 2021 05:36 PM

ग्वालियर। ग्वालियर जिले के माधवगंज इलाके में एक दर्दनाक घटना सामने आई है। यहां शादी वाले घर में सोमवार को करंट लगने से महिला की मौत हो गई। जबकि कुछ ही देर में महिला की ननद की विदाई होने वाली थी। ऐसे में घरवालों ने दुल्हन को बिना जानकारी दिए दूसरे दरवाजे से विदा किया। घटना के बाद घर के कुछ सदस्य डोली के पास थे तो कुछ अर्थी तैयार करने में जुटे थे। घटनाक्रम देख हर किसी की आंखें नम हो गईं। 

माधवगंज थाना इलाके में सात भाई की गोठ क्षेत्र में अजय पाल रहते हैं। उनकी चचेरी बहन मनाली की शादी सोमवार को होनी थी। कोरोना गाइडलाइन के चलते मैरिज गार्डन और होटल प्रतिबंधित थे। ऐसे में उन्होंने घर में ही शादी की तैयारियां की। जिसकी पूरी जिम्मेदारी अजय की पत्नी रेणू संभाल रही थीं।

सोमवार दोपहर शादी की कुछ रस्मों को पूरा करने के बाद रेणू अपने दूसरे घर जा रही थीं। गली में टेंट लगा होने के कारण वह दूसरे रास्ते से गईं। एक तार रास्ते में लगे पोल को छू रहा था। जैसे ही रेणू ने पोल पर हाथ रखा, करंट लग गया। परिजनों को पता चला तो वे उसे अस्पताल ले गए जहां इलाज शुरू होने से पहले ही रेणू ने दम तोड़ दिया।

शादी के घर में हर तरफ खुशी का माहौल था। रेणू की मौत होने की खबर पता चलते ही पूरे घर में सन्नाटा छा गया। एक ही झटके में सारी खुशियां मातम में बदल गई। शादी की रस्मों को कम किया गया। अंत में फेरे और विदाई के साथ ही कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

सोमवार रात को ही घर के एक दरवाजे से ननद की डोली को विदा किया जा रहा था, वहीं दूसरी ओर उसकी भाभी की अर्थी को ले जाया गया। परिवार के आधे लोग विदाई में थे तो आधे शवयात्रा में। रेणू और अजय के एक बेटा और दो बेटियां हैं।