सांसें थमने लगीं तो आशा ने शव का ऑक्सीजन मास्क लगाकर बचाई खुद की जान

 30 Apr 2021 09:10 PM

छिंदवाड़ा। छिंदवाड़ा जिला चिकित्सालय से साहस के बल पर स्वस्थ होकर निकली महिला ने एक वीडियो जारी किया है। उसमें उन्होंने बताया कि, उन्हें खुद को बचाने के लिए मृत व्यक्ति का ऑक्सीजन मास्क निकाल कर लगाना पड़ा था।वायरल वीडियो छिंदवाड़ा जिले के हर्रई ब्लॉक में महिला बाल विकास विभाग की सुपरवाइजर आशा भारती (42) का है, जो कोरोना पॉजिटिव थीं। 15 अप्रैल को उन्हें बुखार, सांस लेने में तकलीफ सहित कोविड के अन्य लक्षणों के चलते जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया था। सिटी स्कैन की रिपोर्ट 17 आने पर कोविड वार्ड में उनका उपचार शुरू किया गया। इस दौरान आशा की सांसें थमने लगीं। इस बीच उनके बगल वाले बेड पर एक मरीज की कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी। खुद का जीवन संकट में घिरता देख आशा ने मृत मरीज के चेहरे से ऑक्सीजन मास्क निकाला और उसे सेनिटाइज करने के बाद लगा लिया। इस प्रकार उन्होंने सूझबूझ से अपनी जान बचा ली। उन्होंने बताया कि, कोरोना से मुकाबला करने में सबसे बड़ा हथियार मरीज का साहस और दृढ़ इच्छा शक्ति है।