कोरोना वायरस: आज हो सकता है कुंभ मेले का समापन, गाइडलाइन का पालन नहीं होने से बढ़ रहा है संक्रमण का खतरा

 14 Apr 2021 06:37 PM

हरिद्वार। 12 साल में एक बार आने वाले कुंभ मेले का आज समापन हो सकता है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक उत्तराखंड सरकार और धार्मिक नेताओं के बीच चर्चा के बाद यह फैसला लिया गया है। कुंभ में स्नान के लिए हजारों भक्त इस समय हरिद्वार पहुंचे हुए हैं। ऐसे में वहां कोरोना फैलने का खतरा बढ़ गया है। 

बुधवार सुबह बड़ी संख्या में साधु और भक्तों ने शाही स्नान किया। ये सप्ताह भर चलने वाले कार्यक्रम का तीसरा प्रमुख स्नान था। राज्य सरकार का कहना है कि दोपहर 2 बजे तक, 9,43,452 श्रद्धालुओं ने गंगा में डुबकी लगाई थी।

लोगों पर लगाया जा रहा जुर्माना
पुलिस अधिकारी संजय गुंजयाल ने मीडिया को बताया कि- 'गैर-भीड़-भाड़ वाले घाटों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने वाले लोगों पर जुर्माना लगाया गया, लेकिन मुख्य घाटों पर मौजूद लोगों पर जुर्माना लगाना बहुत मुश्किल है।' कुंभ का अगला महत्वपूर्ण दिन 27 अप्रैल निर्धारित है।

कुंभ में नहीं हो रहा कोरोना गाइडलाइन का पालन
सूत्रों ने कहा कि राष्ट्रव्यापी आलोचना और कोरोना को लेकर चिंताओं के बीच, राज्य सरकार ने शक्तिशाली अखाड़ों और साधु-संतों को मनाने की कोशिश कर रही है ताकि वे हरिद्वार से चले जाएं और आयोजन को खत्म किया जा सके। कुंभ में कोई सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो रहा है और न ही कोई साधु या उनके अनुयायी घाट पर मास्क लगाए हुए नजर आ रहे हैं। वे ऐसे ही घाट पर घूमते और नदी में डुबकी लगाते हुए नजर आते हैं

राज्य में कोरोना का हाल
उत्तराखंड में मंगलवार को 1,925 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। यह एक दिन में सामने आए संक्रमितों की सबसे ज्यादा संख्या है। वहीं हरिद्वार में दो दिन में 1,000 मामले सामने आए हैं।