नया वर्ष 2021: ​​​​​​​कन्या राशि वाले जानें कैसा रहेगा आपके लिए यह साल....

 31 Dec 2020 01:35 PM

कन्या - (टो, पा, पी, पू, पे, पो, ष, ण, ठ)

व्यवसाय: इस वर्ष राहु नवम भाव में केतु तीसरे भाव में उत्तम है, जबकि पंचम भाव का शनि जहां संतान की चिन्ता पैदा करता है, वहीं चिन्ता का निवारण भी करता है, गुरू मिश्रित फलकारी है। ग्रहयोगों के प्रभाव से इस वर्ष आपको कारोबार की प्रगति के लिये परिश्रम अधिक करना पडे़ेगा, बहुत सी व्यवसायिक जिम्मेदारियाँ सामने आ सकती हैं, जिन्हें पूरा करने के लिये आपको समय और परिश्रम दोनों लगेंगे, किसी के सहयोग से अपनी जिम्मेदारी पूरी करने में सफलता प्राप्त कर राहत का अनुभव करेंगे। यदि आप नौकरी पेशा हैं, तो अतिरिक्त समय में साईड बिजनेस या पार्टटाईम कार्य से आपके संस्थानों में वृद्धि होगी नये परिवर्तन या नये उद्योग धंधे को शुरू करने के पहले अच्छी तरह सोच-विचार कर फैसला करें, आपको नौकरी से दूसरे विभाग या स्थान पर अथवा प्रतिनियुक्ति पर जाने से अच्छा लाभ और पदोन्नति से मई से आगे विशेष सफलता की संभावना है।

धन-सम्पत्ति: स्थायी संपत्ति के उपयोग या अधिकार के विभाजन के प्रसंग इस वर्ष धीरे धीरे उभर सकते हैं, आप स्वयं भी संपत्ति के व्यापक उपयोग की दृष्टि से ऐसा करना चाहेंगे, जीर्ण-शीर्ण पैतिृृक संपत्ति, अथवा अनुपयोगी हो चले व्यवसायिक संस्थान, के भवन प्लाट मशीनरी, वाहन के बदलाव, रखरखाव आदि पर इस वर्ष बड़ा व्यय करना पड़ सकता है, इसलिये उसकी व्यवस्था पर अभी से विचार शुरू कर दें, कारोबार में अलाभकारी शाखा या शोरूम को बंद करने से आपकी बचत होगी।

घर परिवार: आपकी घरेलू जिम्मेदारियां इस वर्ष कुछ अधिक ही बढ़ सकती हैं, वृद्ध वरिष्ठजन के स्वास्थ्य पर देखभाल पर भी समय देना पड़ सकता है, रिश्तेदारों की पढाई, रोजगार, शादी विवाह आदि में भी अधिक मदद करना पड़ सकती है। संतान के कैरियर के निर्माण में कुछ उलझनें रह सकती हैं, यदि घर में कोई विवाह का उम्मीदवार है, तो जनवरी से मई केमध्य विवाह का योग बन सकता है।

स्वास्थ्य: आपकी दिनचर्या भोजन संबंधी आदत इस वर्ष कई कारणों से अनियमित होने का संकेत हैं, आंतों की कमजोरी, रक्त की कमी रह सकती है, डायविटीज और गर्दन की समस्या उभर सकती है, वांये नेत्र की पीड़ा की संभावना है, वैसे सामान्य तौर पर आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।

परीक्षा प्रतियोगिता: आपको अपने मन चाहे क्षेत्र में कैरियर का चुनाव करने में जनवरी से मई के बीच अच्छी सफलता मिल सकती है, प्रतियोगी परीक्षाओं के लिये वर्ष के पूर्वार्ध के 6 माह  उपलब्धि कारक हो सकते हैं, जनवरी से मार्च के बीच स्वास्थ्य की दुर्बलता,चित्त की एकाग्रता में लक्ष्य की प्राप्ति में थोड़ी बाधा भी बन सकती है। 

यात्रा प्रवास तबादला: यदि आप नौकरी पेशा है, तो आपको इच्छित स्थान पर तबादला कराने में वर्ष के उत्तरार्ध में सफलता मिल सकती है, पद रिक्त होने अथवा नये पदों के स्जन के कारण आकस्मिक उन्नति का योग है, जनवरी, मई जून अक्टूवर में यह योग घटित हो सकता है, मार्च की यात्रा में हानि और परेशानी हो सकती है।

धार्मिक कार्य ग्रहशांति: इस वर्ष उत्तर दिशा की तीर्थ यात्रा का संयोग बनेगा, आपको इष्ट देव की आराधना के साथ साथ किसी की प्रेरणावश नई तरह की उपासना का भी संयोग बनेगा, किसी उद्यान आदि में पीपल या बड़ का पौधा लगाकर उसकी देखभाल का संकल्प लेना लाभकारी है।

- ज्योतिषाचार्य पं. नारायणशंकर नाथूराम व्यास, कोतवाली बाजार, जबलपुर (म.प्र.)
मो. नं0 98266-21998