Breaking News

इंग्लैंड क्लीन स्वीप के साथ टी-20 में बना नंबर 1

 02 Dec 2020 07:29 PM

केप टाउन। विश्व के नंबर एक बल्लेबाज डेविड मलान की नाबाद 99 रन की जबरदस्त पारी की बदौलत इंग्लैंड ने दक्षिण अफ्रीका को मंगलवार को एकतरफा अंदाज में तीसरे टी-20 मुकाबले में नौ विकेट से पीटकर तीन मैचों की सीरीज को 3-0 से क्लीन स्वीप कर आईसीसी टी-20 रैंकिंग में पहला स्थान हासिल कर लिया। दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में तीन विकेट पर 191 रन का मजबूत स्कोर बनाया जबकि इंग्लैंड ने 17.4 ओवर में एक विकेट पर 192 रन बनाकर लक्ष्य हासिल कर लिया। मलान ने मात्र 47 गेंदों पर 11 चौकों और पांच छक्कों की मदद से नाबाद 99 रन की मैच विजयी पारी खेली जिसके लिए उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया। मलान पिछले मैच में भी मैन ऑफ द मैच रहे थे। लगातार शानदार प्रदर्शन के लिए मलान को मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार दिया गया। मलान के पास अपना दूसरा टी-20 शतक पूरा करने का मौका था लेकिन कुछ गलतफहमी के चलते उनके हाथ से यह मौका निकल गया। मलान 18वें ओवर की तीसरी गेंद पर चौका लगाकर 98 रन पर पहुंच गए और दोनों टीमों का स्कोर भी बराबर हो गया। मलान को शतक पूरा करने के लिए चौका लगाना था लेकिन वह अगली गेंद पर सिंगल के लिए दौड़ पड़े और 99 रन पर नाबाद रह गए। हालांकि उन्हें इस बात की ज्यादा ख़ुशी थी कि इंग्लैंड ने सीरीज को क्लीन स्वीप किया और टी-20 रैंकिंग में नंबर वन बन गया। इंग्लैंड ने रैंकिंग में ऑस्ट्रेलिया को अपदस्थ किया। हालांकि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के एक बराबर 275 अंक हैं लेकिन दशमलव के बाद की गणना में इंग्लैंड पहले और ऑस्ट्रेलिया दूसरे स्थान पर है। मलान की शानदार पारी के अलावा जोस बटलर ने 46 गेंदों पर तीन चौकों और पांच छक्कों की मदद से नाबाद 67 रन बनाए। मलान और बटलर ने दूसरे विकेट के लिए 167 रन की विश्व रिकॉर्ड साझेदारी की। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। कप्तान क्विंटन डी कॉक 17 रन बनाकर आउट हुए और इसके बाद तेम्बा बावूमा 32 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। रीजा हेंड्रिक्स भी ज्यादा देर नहीं टिके और 13 रन बनाकर आउट हुए। 10 ओवर से पहले दक्षिण अफ्रीका ने 64 रनों तक तीन विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद फाफ डू प्लेसिस और रैसी वान डेर डुसेन ने मिलकर दक्षिण अफ्रीका की पारी को संभाला। फाफ ने 37 गेंदों पर पांच चौकों और तीन छक्कों की मदद से नाबाद 52 और डुसेन ने मात्र 32 गेंदों में पांच चौकों और पांच छक्कों के सहारे नाबाद 74 रन बनाये। इंग्लैंड की ओर से बेन स्टोक्स ने दो और क्रिस जोर्डन ने एक विकेट लिया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी इंग्लैंड की टीम को 3.4 ओवर में 25 रनों पर जैसन रॉय 16के रूप में पहला झटका लगा। रॉय के आउट होने के बाद बटलर और मलान ने मिलकर दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों की जमकर खबर ली। इन दोनों ने मिलकर इंग्लैंड को आसानी से जीत दिला दी। मलान ने सीरीज के तीन मैचों में 86.50 के औसत और 161.68 के स्ट्राइक रेट से कुल 173 रन बनाए।

मुझे मैथ्स की क्लास में लौटना होगा :

अपनी 99 रन की शानदार नाबाद पारी से इंग्लैंड को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अंतिम टी-20 मैच जिताने वाले विश्व के नंबर एक बल्लेबाज वाले डेविड मलान ने शतक पूरा नहीं हो पाने को लेकर मजाकिया अंदाज में कहा कि उन्हें अब मैथ्स की क्लास में लौटना होगा। लक्ष्य का पीछा करते हुए मलान के पास अपना दूसरा टी-20 शतक पूरा करने का मौका था लेकिन कुछ गलतफहमी के चलते उनके हाथ से यह मौका निकल गया। मलान 18वें ओवर की तीसरी गेंद पर चौका लगाकर 98 रन पर पहुंच गए और दोनों टीमों का स्कोर भी बराबर हो गया। मलान को शतक पूरा करने के लिए चौका लगाना था लेकिन वह अगली गेंद पर सिंगल के लिए दौड़ पड़े और 99 रन पर नाबाद रह गए। मैच के बाद मलान ने कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो मुझे शतक के बारे में पता होना चाहिए था लेकिन कुछ भी हो मैं सिंगल के लिए जरूर दौड़ता। शायद अब मुझे मैथ्स क्लास में लौटना होगा।'' उन्होंने कहा कि उन्हें लगा था कि मैच जीतने के लिए पांच रन चाहिए थे लेकिन वह एक रन इसलिए भागे क्योंकि उन्हें पता नहीं था कि अगर वह एक रन नहीं लेंगे तो क्या होगा। मलान ने अंत तक खेलते हुए नाबाद 99 रन ठोके। उनके पास हालांकि इस दौरान अपना शतक पूरा करना का मौका था लेकिन उन्होंने 98 रन पर खेलते हुए एक रन ले लिया जिससे मैच वहीं समाप्त हो गया था। मलान चौका या छक्का भी लगा सकते थे और इसके लिए उनके पास पर्याप्त गेंदें भी थीं। मलान हालांकि शतक नहीं जड़ सके लेकिन टीम की जीत में अहम भूमिका निभा गए। उन्होंने कहा, ‘‘मेरे पास लय थी और जोस बटलर ने पारी की इतनी तेज शुरुआत नहीं की जितनी वह आम तौर पर करते हैं। मुझे पता है कि मेरे पास ताकत है और उसका इस्तेमाल सही समय पर करना है।