झाबुआ: धोनी को डिलीवर होने से 5 दिन पहले ही बर्ड फ्लू से मरे 2500 कड़कनाथ चूजे समेत मुर्गियां

 12 Jan 2021 10:41 PM

झाबुआ। जिले में बर्ड फ्लू से 2500 से ज्यादा कड़कनाथ चूजे समेत मुर्गियों की मौत हो गई। इन चूजों की 6 महीने से खास देखभाल की जा रही थी। क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी इन कड़कनाथ मुर्गों की फार्मिंग करने वाले थे। लेकिन डिलीवरी से 5 दिन पहले ही ये बीमार पड़ गए और बाद में इनकी मौत हो गई। लगातार चूजों की मौत की खबर मिलने के बाद टेस्ट किए गए, जिनमें मुर्गीपालन केंद्र पर मरने वालों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई।

थांदला नगर के पास रूंडीपाडा गांव में आशीष कड़कनाथ मुर्गी पालन सहकारी संस्था के संचालक  विनोद मन्नू मईडा ने बताया कि वे बीते 6 माह से कड़कनाथ चूजों को क्रिकेटर धोनी के लिए तैयार कर रहे थे, उनमें से 2500 से अधिक चूजे और मादा मुर्गियां 4-5 दिन में बर्ड फ्लू का शिकार होकर मर गई हैं। इनके बर्ड फ्लू होने की पुष्टि जिला चिकित्सा अधिकारी डॉ.विल्सन डावर ने की। संचालनालय पशु चिकित्सालय मध्यप्रदेश द्वारा भी पत्र जारी कर बर्ड फ्लू की पुष्टि की गई है। बर्ड फ्लू की पुष्टि होने के बाद पूरा प्रशासनिक अमला ग्राम रूंडी पाड़ा स्थित मुर्गीपालन केंद्र पर पहुंचा और मृत सारे चूजे और मुर्गियों को दफन किया गया। अन्य जीवित मुर्गी मुर्गियों का उपचार किया जा रहा है। 

क्रिकेटर धोनी को करने थे डिलीवर
विनोद मन्नू मईडा ने बताया कि महेंद्र सिंह धोनी को देने के लिए चूजे तैयार कर रहा था। 10 जनवरी को उक्त चूजों को डिलीवरी करना था, लेकिन बीते 5 दिनों में लगातार 200 से 300 चूजे और मादा कड़कनाथ मुर्गियां, मुर्गे मरते जा रहे थे। बर्ड फ्लू की आशंका को देखते हुए सूचना जिला पशु चिकित्सालय तक पहुंचाई। फार्म में करीब 2850 चूजे और मुर्गे मृत पाए गए।  अब मात्र 150 ही शेष हैं, जिनमें से भी कई बीमार हैं।