स्वान ने दी चेतावनी,ऑस्ट्रेलिया को भूलो, भारत को उसी की जमीं पर हराओ

 23 Jan 2021 01:01 AM

लंदन। इंग्लैंड के पूर्व ऑफ स्पिनर ग्रीम स्वान ने अपनी टीम से कहा है कि ऑस्ट्रेलिया अब विश्व की सर्वश्रेष्ठ टीम नहीं रही और इसलिए उस पर ध्यान देने के बजाए अब इस बात पर ध्यान देने की जरूरत है कि भारत को भारत में कैसे हराया जाय। इंग्लैंड को भारत के साथ उसके घर में ही चार टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है जिसकी शुरुआत 5 फरवरी से हो रही है। इसके बाद दोनों टीमें पांच टी-20 और तीन वनडे मैच खेलेंगी। स्वान ने कहा कि अब भारत को भारत में हराना बड़ी उपलब्धि होगी। स्वान ने अंग्रेजी अखबार 'द सन' से कहा, 'इंग्लैंड हमेशा कहती थी कि एशेज सीरीज आ रही है। इसे छोड़िए। अगर आप विश्व की सर्वश्रेष्ठ टीम बनना चाहते हैं तो इस ग्रह की सर्वश्रेष्ठ टीम बनिए, सिर्फ ऑस्ट्रेलिया को हराने के बारे में मत सोचिए। हमें एशेज सीरीज से आगे बढ़ना होगा। यह इस देश की मानसिकता में है।

अब सर्वश्रेष्ठ टीम नहीं रही ऑस्ट्रेलिया

अब ऑस्ट्रेलिया इस देश की सर्वश्रेष्ठ टीम नहीं रही। वह पहले हुआ करती थी।' उन्होंने कहा, 'वह अब नहीं है, लेकिन हम इसी से घिरे हैं। मुझे लगता है कि अब भारत को भारत में हराना काफी बड़ी उपलब्धि है। वह 2012 से अपने घर में एक तरह से अजेय हैं।' इंग्लैंड ने भारत को भारत के घर में 2012 में शिकस्त दी थी और स्वान उस टीम का अहम हिस्सा थे। उल्लेखनीय है कि हाल ही में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया को उसी के घर में टेस्ट सीरीज 2-1 से हराकर इतिहास रचा है। टीम इंडिया के इस प्रदर्शन से दुनियाभर के क्रिकेटर प्रभावित हैं।

पंत की विकेटकीपिंग पर उठ रहे सवालों पर साहा ने दिया बयान

कोलकाता। टीम इंडिया के विकेटकीपर ऋषभ पंत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिसबेन में खेले गए चौथे टेस्ट के आखिरी दिन ऐतिहासिक पारी खेल कर भारत को मैच और टेस्ट सीरीज (2-1) का विजेता बनाने में अहम भूमिका निभाई, लेकिन उनके विकेटकीपिंग कौशल पर अब भी सवाल उठ रहे हैं, जिस पर अनुभवी विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा ने शुक्रवार को कहा कि यह युवा खिलाड़ी धीरे-धीरे इसमें वैसे ही सुधार करेगा जैसे कोई बीजगणित सीखता है। नेशनल टीम के टॉप विकेटकीपर माने जाने वाले साहा ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि पंत की साहसिक पारी के बाद उनके लिए टीम के दरवाजे बंद हो जाएंगे। वह अपना सर्वश्रेष्ठ करना जारी रखेंगे और चयन की माथापच्ची टीम मैनेजमेंट पर छोड़ देना चाहते है।