भोपाल: नूतन कॉलेज में तीन कोरोना पॉजिटिव मिले फिर भी छात्राओं की भीड़ के बीच भवन का उद्घाटन

 23 Feb 2021 09:37 PM

भोपाल। सरोजिनी नायडू शासकीय कन्या पीजी महाविद्यालय (नूतन कॉलेज) में दो प्रोफेसर सहित तीन लोगों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने के बाद भी मंगलवार को कॉलेज के नए भवन, कैंटीन और स्वशासी प्रकोष्ठ का लोकार्पण किया गया। कॉलेज प्रबंधन का तर्क है कि जिनकी रिपोर्ट पॉजीटिव आई है, वे तीन दिन से कॉलेज नहीं आए हैं, सभी कक्ष सेनिटाइज कराए गए हैं। कार्यक्रम में उच्च शिक्षा विभाग मंत्री डॉ. मोहन यादव व जल संसाधन एवं मत्स्य पालन विभाग मंत्री तुलसीराम सिलावट शामिल हुए।

कॉलेज में रूसा एवं विश्व बैंक समिति के सहयोग से एक भवन का निर्माण व अन्य कई भवनों का  रेनोवेशन किया गया है। इस मौके पर रूसा व समिति का स्टाफ उपस्थित रहा होगा। इसी समिति के स्टाफ को कोविड हुआ। बताया जा रहा है जिस महिला कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है वह एक दिन पहले ही कई लोगों के संपर्क में थी। 

रोजगार की संभावनाएं बढ़ाने उच्च शिक्षा में किए जा रहे नवाचार : यादव
उच्च शिक्षा के क्षेत्र में विभिन्न नवाचारों के माध्यम से कई परिवर्तन किए जा रहे हैं। ऐसी शिक्षा पद्धति विकसित की जा रही है, जिससे युवाओं को अधिकाधिक रोजगार मिल सके। भविष्य में उच्च शिक्षा का नया रूप उभरकर सामने आएगा। यह बात उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव ने मंगलवार को नूतन कॉलेज रूसा एवं विश्व बैंक परियोजना के तहत स्वीकृत विकास कार्यों के लोकार्पण एवं शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कही। इस अवसर पर मंत्रीद्वय डॉ. यादव और सिलावट ने महाविद्यालय में एक करोड़ 60 लाख रुपए की राशि से निर्मित भवन, उन्नयित केंटीन एवं स्वशासी प्रकोष्ठ कक्ष का लोकार्पण और 8 करोड़ 60 लाख रुपए की राशि के कार्यों का शिलान्यास किया गया। उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. यादव ने कहा कि कॉलेज में नए कोर्स शुरू कराये जायेंगे। कृषि, चिकित्सा सहित अन्य पाठ्यक्रम संचालित करने के लिए महाविद्यालयों का पूरा सहयोग किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कॉलेज अब जनभागीदारी मद से 50 लाख के स्थान पर एक करोड़ की राशि खर्च कर सकेंगे। कार्यक्रम में विभिन्न क्षेत्रों में नाम रोशन करने वाली छात्राओं को सम्मानित किया गया।

इनका कहना है
प्रोफेसर्स के कोरोना पॉजिटिव आने की जानकारी मुझे आज सुबह ही मिली थी। जिन प्रोफेसर्स की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई है, वह पिछले दो दिन से छुट्टी पर थे, फिर भी एतिहात के तौर पर पूरी बिल्डिंग को सेनेटाइज्य कराने के बाद कार्यक्रम किया गया है। कार्यक्रम में कम से कम लोगों को बुलाया गया है। -प्रतिभा सिंह, प्राचार्य, सरोजनी नायडू शासकीय कन्या पीजी कॉलेज