किस्मत: पन्ना की खदान में मजदूर को मिले दो हीरे, कीमत लगभग 30 लाख

 23 Feb 2021 12:14 PM

पन्ना में एक कहा बहुत ही प्रचलित है, यहां की धरती न जाने कब रंक को राजा बना दे। इस धरती एक बार फिर ऐसा ही हुआ है। यहां मजदूर एक दिन में ही लखपति बन गया। यहां मिले दो हीरों ने मजदूर की जिंदगी रोशन कर दी है।

पांच साल से उथली खदान का पट्टा लेकर मजदूर भगवान दास कुशवाहा अपने चार साथियों के साथ हीरा तलाश रहा था। सोमवार को इनकी तलाश जैसे पूरी हो गई। इटवाखास ग्राम की किटहा हीरा खदान से भगवान दास को दो हीरे मिले। इन हीरों की अनुमानित कीमत 30 लाख रुपए से ऊपर बताई जा रही है।

बड़े हीरे का वजन 7.94 कैरेट है, जो उज्ज्वल जैम क्वालिटी का है। दूसरे का वजन 1.93 कैरेट है। मजदूरों ने हीरा कार्यालय पहुंचकर हीरा जमा कर दिया है। अब इन मजदूरों को आगामी होने वाली नीलामी में हीरो से मिलने वाली राशि प्राप्त हो जाएगी।

क्या है नीलामी की प्रक्रिया
यहां मजदूर खदान से हीरा निकालकर हीरा कार्यालय में जमा कराते हैं। हीरा कार्यालय की ओर से सालभर के चार से पांच बार नीलामी करवाई जाती है। इसमें हीरे की बिक्री मूल्य में से करीब 35 फीसदी तक टैक्स काटकर बाकी राशि हीरा निकालने वाले को दे दी जाती है। पिछले साल करीब 12 मजदूरों को खदान में हीरे मिले थे।