सीधी बस हादसा: नहर में गिरी बस निकाली गई; 42 की मौत, बहे लोगों की तलाश जारी, मृतकों में रेलवे की परीक्षा देने जा रहे 12 छात्र भी शामिल

 16 Feb 2021 04:12 PM

स्वाइप कर देखें तस्वीरें...

सतना। मध्य प्रदेश के सीधी के रामपुर नैकिन थाना इलाके में मंगलवार सुबह सड़क हादसा हो गया। सतना जा रही एक बस नहर में जा गिरी। बस में करीब 54 लोग सवार थे। हादसे के बाद 6 लोग तैरकर बाहर निकल आए,  ड्राइवर खुद तैरकर बाहर आ गया। उसे हिरासत में लिया गया है। घटना में 42 लोगों के शव बाहर निकाले जा चुके हैं। इन शवों को संजय गांधी अस्पताल भेजे गया है। अब बहे लोगों की तलाश शुरू की गई है। मृतकों में 12 छात्र भी थे। ये सभी रेलवे की परीक्षा देने सतना जा रहे थे। नहर इतनी गहरी है कि बस पूरी तरह उसमें डूब गई। क्रेन के जरिए इसे बाहर निकाला गया है। सरकार ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए के मुआवजे का एलान किया है।


नहर लगभगर 30 फीट गहरी बताई जा रही है। बस इसमें पूरी तरह डूब गई थी। गोताखोरों और पुलिस प्रशासन ने बड़ी मशक्कत के बाद इसे पानी में खोज निकाला, क्रेन के जरिए बस को बाहर निकाला। बताया गया है कि बस में बघवार, चोरगढ़ी समेत आसपास के भी यात्री सवार थे। बस हादसे को लेकर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने सीधी कलेक्टर से बात की है। सीएम ने आज भोपाल में होने वाली प्रधानमंत्री आवास योजना के गृहप्रवेशम कार्यक्रम को स्थगित कर दिया है। दो मंत्री तुलसीराम पटेल और रामखेलावन पटेल घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं।

 

जबलानाथ परिहार ट्रेवल्स की बस Mp19p 1882 सीधी से सतना जा रही थी, साइड लेने के दौरान वह पुलिया से सीधे नहर में जा गिरी। बस के मालिक कमलेश्वर सिंह हैं। बस का फिटनेस 2 मई 2021 तक है जिसका परमिट परिवहन विभाग से 12 मई 2025 तक के लिए जारी किया गया है। इस बस में सीधी बस स्टैंड से 38 टिकट बुक की गई थी। जो कि 80 किलोमीटर सफर तय कर हादसे का शिकार हो गई। बचाव कार्य में जुटे प्रशासन ने नहर का पानी बंद कर दिया है। बस में चोरगड़ी,बघवार व अन्य स्थानीय गांव के लोग सवार थे। 

 

 

लाइव अपडेट...

अधिकारियों के मुताबिक अब तक 42 शव निकाले जा चुके हैं। 

 

 

मुख्यमंत्री ने दो मंत्रियों को सीधी रवाना किया
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर जलसंसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट और पंचायत राज्य मंत्री राम खेलावन पटेल को स्टेट प्लेन से सीधी दुर्घटना स्थल रवाना किया। सीधी जिले में बाण सागर नहर में बस गिरने से हुई दुर्घटना के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन और प्रभावित परिवारों की मदद के लिए  दोनो मंत्री बल्लभ भवन से सीधे  स्टेट हेंगर रवाना हो चुके हैं।

 

 

कुछ मृतको के शव नहर में बहने की आंशका।
सीएम ने मृतकों के परिवार को 5 लाख की सहायता देने की घोषणा की। 

 


सीधी में हुई बस दुर्घटना को देखते हुए आज मध्यप्रदेश कैबिनेट की बैठक स्थगित कर दी गई है। 

शवों को लेकर एंबुलेंस संजय गांधी रीवा के लिए रवाना।

लोकार्पण कार्यक्रम स्थगित
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीधी में हुई सड़क दुर्घटना के कारण प्रधानमंत्री आवास योजना के लोकार्पण कार्यक्रम को स्थगित कर दिया है। उन्होंने मिंटो हालॅ पहुंचकर यह जानकारी दी।

 

 

 

गृहमंत्री मिश्रा बोले थोड़ी देर में स्थिति साफ होगी

 

सीधी: सांसद गणेश सिंह ने जताया शोक
सतना प्रदेश के सीधी जिले में बाणसागर नहर पर हुई बस दुर्घटना पर शोक व्यक्त करते हुए सांसद गणेश सिंह ने कहा कि घटना अत्यंत दु:खद है। जानकारी मिलते ही तुरंत जिले के कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक तथा रीवा के आयुक्त सहित वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना दी गई। जो मौके पर मौजूद हैं।  राहत बचाव कार्य जारी है। जो लोग बस से निकलकर तैरकर किनारे आए थे उन्हें अस्पताल पहुंचाया गया है। एनडीआरएफ के 20 जवान इस रेस्क्यू ऑपरेशन में काम कर रहे हैं।

SDRF और गोताखोरों की टीम रेस्क्यू में जुटी
SDRF की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में जुट गई है। क्रेन के अलावा अन्य मशीनरी भी बुलाई गई है। गोताखोर भी वहां मौजूद हैं। ऐहतियातन बाणसागर डैम से नहर का पानी रोक दिया गया है। नहर का जलस्तर कम करने के लिए इसके पानी को सिहावल नहर में भेजा जा रहा है।

सीएम शिवराज ने ट्वीट कर जताया शोक 
मुख्यमंत्री शिवराज सिहं चौहान ने सीधी हादसे पर ट्वीट कर कहा कि ' सीधी से सतना जा रही बस के नहर में गिरने से हुए हादसे में कई अनमोल जिंदगियों के काल कवलित होने के समाचार से दुख हुआ। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान देने और लापाता लोगों के सुरक्षित होने की प्रार्थन करता हूं।

 

 

मौके पर एसडीआरएफ और प्रशासन की टीम मौजूद 
सीएम ने ट्वीट कर जानकारी दी कि, 'मैंने सीधी कलेक्टर से दुर्घटना के मामले में बात कर रेस्क्यू ऑपरेशन तेज करने के निर्देश दिये हैं। नहर के जलस्तर स्तर को कम करने के लिए बाणसागर की ओर से आने वाले पानी को भी रोक दिया गया है। मौके पर एसडीआरएफ और प्रशासन की टीम मौजूद है। मैं सतत अधिकारियों के संपर्क में हूं'।

 

 

12 से ज्यादा यात्री तैरकर बाहर निकले 
जानाकारी के मुताबिक ड्राइवर ने  नियंत्रण खो दिया जिससे बस नहर में जा गिरी। बस सीधी से सतना की ओर जा रही थी। घटना सुबह लगभग आठ बजे की बताई जा रही है। बस में सवार 12 से ज्यादा यात्री खुद से पानी से बाहर निकल आए हैं। घटना की जानकारी मिलते ही सीएम शिवराज  सीधी के डीएम से बात की। साथ ही कलेक्टर को बाणसागर डैम से नहर का पानी रोकने के आदेश दिए हैं, ताकि नहर में पानी कम हो जाए और बचाव कार्य में तेजी आ सके।

जाम लगा तो ड्राइवर संकरे रास्ते से ले जा रहा था बस
पुलिस ने बताया कि बस की क्षमता 32 सवारियों की थी, लेकिन इसमें करीब 60 यात्री सवार थे। सीधी रोड पर छुहिया घाटी से होकर बस को सतना जाना था, लेकिन यहां जाम की वजह से ड्राइवर ने रूट बदल दिया। वह नहर के किनारे से बस ले जा रहा था। यह रास्ता काफी संकरा था और इसी दौरान ड्राइवर ने संतुलन खो दिया। झांसी से रांची के जाने वाला हाइवे सतना, रीवा, सीधी और सिंगरौली होते हुए जाता है। यहां जगह-जगह सड़क खराब और अधूरी है। इस वजह से यहां आए दिन जाम लग जाता है।