सीधी सर्किट हाउस में सीएम शिवराज सिंह को मच्छरों ने सोने नहीं दिया, इंजीनियर सस्पेंड

 19 Feb 2021 05:25 PM

भोपाल। सीएम शिवराज सिंह सीधी में हुए हादसे के बाद हालात का जायजा लेने वहां पहुंचे थे। लेकिन वहां उन्हें भी परेशान होना पड़ा। सीएम दिन भर के दौरे के बाद जब रात को सर्किट हाउस में आराम करने पहुंचे तो मच्छरों ने उन्हें सोने नहीं दिया। रात में दवा के छिड़काव के बाद थोड़ी देर नींद लगी तो पानी की मोटर की आवाज ने नींद खराब कर दी। आखिर इस मामले में सर्किट हाउस के प्रभारी इंजीनियर बाबूलाल गुप्ता को सस्पेंड भी कर दिया गया है।
जानकारी के अनुसार दिनभर के दौरे के बाद जब मुख्यमंत्री सर्किट हाउस आराम के लिए पहुंचे तो मच्छरों से परेशान होते रहे। रात ढाई बजे मच्छर मारने की दवा छिड़की गई तब कुछ नींद आई तो सुबह 4 बजे पानी की टंकी ओवरफ्लो हो गई। आवाज आने से नींद खुल गई। हद तो तब हो गई जब सीएम को खुद उठकर मोटर बंद करवाने जाना पड़ा।

शुक्रवार को निलंबन का आदेश जारी करते हुए रीवा संभागीय आयुक्त राजेश कुमार जैन ने कहा कि लोक निर्माण विभाग (पीडब्ल्यूडी) के उप-इंजीनियर बाबूलाल गुप्ता को सर्किट हाउस में वीआईपी के रुकने के बारे में बताया गया था, इसके बाद भी हमें खराब स्वस्छता, कुप्रबंधन और मच्छरों की शिकायत मिली। जैन ने कहा कि प्रोटोकॉल के अनुसार सर्किट हाउस में व्यवस्थाएं नहीं मिलीं। 
सस्ेंड करने के आदेश में कहा कि गया है कि सब-इंजीनियर बाबूलाल गुप्ता ने जिला प्रशासन की छवि को धूमिल की और निदेर्शों का पालन करने में विफल रहे। गुप्ता को मध्य प्रदेश सिविल सेवा अधिनियम 1966 के अनुसार अपने सरकारी कर्तव्यों के निर्वहन में लापरवाही के लिए सस्पेंड किया जाता है।