नेपानगर विधानसभा: सिंधिया बोले- कमलनाथ सरकार में मामूली ट्रांसफर के लिए वल्लभ भवन में 10, 20, 30 लाख रुपए बोली लगती थी

 18 Oct 2020 06:47 PM  174

बुरहानपुर। नेपानगर विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी सुमित्रा कास्डेकर के सर्मथन में जनसभा को संबोधित करने दयार्पुर पहुंचे जोतिरादित्य सिंधिया लगातार कांग्रेस पर हमलावर रहे। सिंधिया ने कमलनाथ सरकार को जनता विरोधी झूठी सरकार बताया। उन्होंने कहा कि कमलनाथ सरकार में मामूली ट्रांसफर के लिए वल्लभ भवन में बोली लगती थी। 10 लाख, 20 लाख, 30 लाख रुपए लिए जाते थे। इस दौरान मंच पर उनका महाराजा वाला अंदाज देखने को मिला। उनके लिए मंच पर अलग से सोफा लगाया गया था।
सिंधिया ने कहा कि 14 साल में शिवराज सिंह जी ने पूरे मध्य प्रदेश में विकास और प्रगति की एक अलख जगाई थी। मेरे मन में भी एक अलख थी, कांग्रेस के झंडे के साथ मप्र के विकास, प्रगति, जनसेवा, संवेदनशीलता, गरीबों के उत्थान, किसानों के उन्नति की। एक आशा थी, विकासशील, प्रगतिशील सरकार बनाएंगे। 15 महीनों में विकास, प्रगति की लकीर छोड़कर कमलनाथजी और दिग्विजयजी ने जेब भरने और भ्रष्टाचार की लकीर खींच दी। मामूली ट्रांसफर के लिए वल्लभ भवन में बोली लगती थी। 10 लाख, 20 लाख, 30 लाख। कलेक्टर, एसडीएम, एसडीओपी, टीआई के ट्रांसफर होते थे। एक एसपी का ट्रांसफर एक सप्ताह में चार बार। क्या जोड़ी है, वाह रहे वाह। ऐसी जोड़ी राजनीति में नहीं, फिल्मी जगत में होना चाहिए। एक हैं छोटे भाई... तभी समर्थक बोले- दूसरे बड़े भाई। सिंधिया बोले - कांग्रेस में भ्रष्टाचार ही शिष्टाचार है।