मुरैना में 2 दिन से बिक रही थी जहरीली शराब, जिसने भी शराब पी, उसी की तबीयत बिगड़ी; पहले उल्टी फिर तड़प कर जान गंवाई

 12 Jan 2021 06:03 PM

मुरैना। जिले में जहरीली शराब ने 12 घरों के चिराग बुझा दिए। यहां के मानपुर छैरा, सुमावली के पावली गांव में बीते 24 घंटे में लोगों की मौत हुई है। 5 लोगों की हालत गंभीर है। मंगलवार दोपहर जब इन गांव में एक साथ शव पहुंचे तो माहौल गमगीन हो गया। लोगों की आंख में गम से ज्यादा गुस्सा देखने को मिला। यहां मानपुर छैरा में एक साथ 7 शव गांव पहुंचे। हाल यह था कि एक के बाद एक शव लाइन से रखे थे। परिजन बिलख रहे थे। सभी का गांव में एक साथ अंतिम संस्कार किया गया।

ग्रामीण बताते हैं कि इन दोनों गांव में बीते 48 घंटे में जिसने भी अवैध शराब खरीदकर पी है, उनकी हालत बिगड़ी है। पहले उल्टी हुई फिर उन्होंने सीने में जलन के बाद दम तोड़ दिया। दोपहर में पोस्टमार्टम के बाद गांव में हंगामा हो गया। परिजन सरकारी नौकरी और 20 लाख रुपए की मांग कर रहे थे। प्रशासन का कहना था कि यह उनके अधिकार में नहीं है। शासन को प्रस्ताव भेजेंगे। सभी के परिजन को 10-10 हजार रुपए तत्काल सहायता के रूप में दिए हैं। जिला आबकारी अधिकारी जावेद अहमद को निलंबित कर दिया गया है।

ग्रामीणों का कहना था कि कुछ की जान बचाई जा सकती थी, यदि एंबुलेंस समय पर आ जाती। रात को तीन-तीन बार कॉल किया, लेकिन एंबुलेंस नहीं आई। ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से बीमार लोगों को जिला अस्पताल तक लाए।