सिंधिया को गद्दार करार देने के लिए कांग्रेस घर-घर पहुंचा रही डॉ. वृंदावनलाल वर्मा की किताब झांसी की रानी लक्ष्मी बाई

 23 Oct 2020 06:04 PM

ग्वालियर। प्रदेश की 28 सीटों पर होने वाले उपचुनाव में पार्टियां एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप का कोई मौक नहीं छोड़ना चाह रही हैं। इसके लिए पार्टियां नए-नए तरीके इजाद भी कर रही हैं। कांग्रेस अब कमलनाथ सरकार का तख्तापलट करने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया पर हमला करने का कोई मौका नहीं चूक रही है। पार्टी सिंधिया राजवंश को गद्दार साबित करने के लिए सिंधिया के प्रभाव वाले क्षेत्र में बुद्घिजीवियों के घर डॉ.वृंदावनलाल वर्मा का उपन्यास 'झांसी की रानी लक्ष्मी बाई' पहुंचा रही है।
इस उपन्यास में 1857 की क्रांति को लेकर सिंधिया राजघराने को कटघरे में खड़ा किया गया है। कांग्रेस का दावा है किइस उपन्यास को सिंधिया राजघराने ने धनबल के जोर पर बाजार से गायब करा दिया था। मगर उपचुनाव के मतदान से कुछ दिन पहले 1857 की क्रांति की गाथा सुनाता नये प्रिंट में यह उपन्यास बुद्धिजीवियों के बीच बंटवाया जा रहा है।