रतलाम में शादीवाले घर में तांत्रिक का तांडव; भूत भगाने के नाम पर परिजन-रिश्तेदारों को आपस में लड़वाया, 2 की मौत

 20 Feb 2021 07:04 PM

रतलाम। मध्य प्रदेश के रतलाम जिले में शादी वाले घर में तंत्र-मंत्र का ऐसा भूत सवार हुआ कि पूरा परिवार ही एक-दूसरे की जान का दुश्मन बन गया।  यहां भूत भगाने आए तांत्रिक ने घर के दरवाजे बंद किए और पहले परिजन- रिश्तेदारों को बेसुध किया। फिर आपस में लड़वा दिया। परिवार के सभी लोग जमीन पर सिर पटकते हुए एक-दूसरे पर हमला करने लगे। बच्चों की चीख-पुकार सुनकर पड़ोसियों ने कुछ लोगों को घर से निकाला और उन्हें अस्पताल ले गए। जहां 2 लोगों की मौत हो चुकी हैं। वहीं दो अन्य घायल बताए गए हैं।

घटना रतलाम जिले के ठिकरिया गांव की है। यह पूरा मामला किसी तांत्रिक और बरगद के पेड़ से जुड़ा है। घायलों में एक बुजुर्ग महिला भी शामिल है। मरने वालों में एक राजाराम नाम का शख्स और एक छोटा बच्चा है। घटना के वक्त परिवार के साथ तांत्रिक भी था, जो फरार है। घर के सभी लोग इस वक्त पुलिस हिरासत में हैं। उनसे पूछताछ हो रही है। घायलों का इलाज रतलाम के शिवगढ़ स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा है। 

पुलिस के मुताबिक, परिवार वालों को राजाराम पर भूत प्रेत का साया होने का शक था। इसी शक में उन्होंने तांत्रिक को बुलाया था। तांत्रिक सुबह से ही परिवार के साथ था और उसी ने घर का दरवाजा अंदर से बंदकर रखा था। देखते ही देखते सभी ने होश खो दिया और एक-दूसरे पर हमला करने लगे। पुलिस तांत्रिक की तलाश में जुटी है।

शुरुआती पूछताछ में परिवार के सदस्यों ने बताया कि उन्हें घर के बाहर लगे बरगद के पेड़ पर कुछ ऐसा नजर आया कि महिलाएं, बच्चे और बाकी लोग चिल्लाते हुए एक-दूसरे को मारने-पीटने लगे। कुछ तो जमीन पर अपना सिर पटक रहे थे। पुलिस ने जब घर के सदस्यों से पूछा कि बरगद के पेड़ पर उन्हें ऐसा क्या नजर आया? तो किसी ने जवाब नहीं दिया? चीखें सुनकर पड़ोसियों ने घर का दरवाजा तोड़ा और घायलों को अस्पताल पहुंचाया. डॉक्टर ने बताया कि घायलों के सिर पर चोट के निशान थे। एक मृत व्यक्ति का शव खून से लथपथ था।

गांव वालों का कहना था कि घर में दो शादियां थीं। कई मेहमान आए थे। बीते दो दिनों से कुछ सदस्यों को घर के बाहर बरगद के पेड़ पर इंसान जैसी छवि नजर आ रही थी। परिवार के कुछ सदस्य कह रहे थे कि राजाराम के शरीर में भूत का प्रवेश हो गया है। दो दिन से सब इस बारे में ही बातें कर रहे थे।