गूगल क्रोम ला रहा नया Safe Browsing फीचर, हार्मफुल फाइल डाउनलोड से पहले होंगी स्कैन

 06 Jun 2021 02:31 PM

पॉप्युलर इंटरनेट ब्राउजर गूगल क्रोम (Goole chrome) में जल्द ही नया ‘Safe Browsing’ फीचर आने वाला है। Google Chrome को कई लोग प्राइमरी ब्राउजर के तौर पर यूज करते हैं। इसके यूजर एक्सपीरियंस की वजह से काफी लोग इसे पसंद करते हैं। अब यह अपडेट यूजर्स को बेहतर एक्सटेंशन का चुनाव करने में सहायता करेगा, साथ ही इंटरनेट से malicious (खतरनाक) फाइल्स डाउनलोड करने से भी रोकेगा। अगर आप गलती से कोई असुरक्षित एक्सटेंशन डाउनलोड कर लेते हैं, तो गूगल क्रोम तुरंत इसके बारे में आपको बता देगा। 
Google अपने ब्राउजर Chrome को सेफ बनाने के लिए लगातार काम कर रहा है। Google का कहना है कि क्रोम वेब स्टोर डेवलपर प्रोग्राम पॉलिसी का इस्तेमाल करके बनाए गए एक्सटेंशन को ही सेफ़ ब्राउजिंग फीचर के जरिए विश्वसनीय माना जाएगा। इससे यूजर्स को हार्मफुल डाउनलोड या एक्सटेंशन से भी बचाया जाएगा। अगर आप 'Enhanced Safe Browsing' ऑप्शन को इनेबल करते हैं, तो Google आपके द्वारा क्रोम पर डाउनलोड की गई हर फ़ाइल की जांच करेगा और अगर यह मैलिशियस नजर आएगी तो आपको अलर्ट किया जाएगा। ज्यादा एनालिसिस के लिए Google Safe Browsing पर फाइल अपलोड हो जाएगा। अगर फाइल अनसेफ हुआ तो गूगल इसको लेकर आपको चेतावनी देगा। हालांकि ये ऑप्शनल रखा गया है यानी आप बिना स्कैन किए भी फाइल को डाउनलोड कर सकते हैं।

 

ऐसे चालू करें सेफ ब्राउजिंग
गूगल जल्द ही इन दोनों फीचर्स को क्रोम 91 अपडेट के साथ जारी करेगा। तब तक, आप क्रोम में पहले से दिए गए Safe Browsing फीचर का इस्तेमाल कर सकते हैं। गूगल की मानें तो यह टूल आपको कोई भी खतरनाक इवेंट होने से पहले ही चेतावनी दे देता है। मौजूदा 'सुरक्षित ब्राउज़िंग' टूल आपको यह भी बताता है कि किसी डेटा ब्रीच में पासवर्ड लीक हुआ है या नहीं। 
आप सेटिंग सेक्शन में जाकर 'Safe Browsing' ऑप्शन को इनेबल कर सकते हैं। Settings में जाने के बाद Privacy & Security ऑप्शन पर क्लिक करें। फिर यहां दिए गए Security ऑप्शन पर टैप करें। अब, सेफ ब्राउजिंग सेक्शन की लिस्ट में मौजूद Enhanced protection पर टैप करें। 'एन्हांस्ड सेफ ब्राउजिंग' यूजर्स के लिए अन्य ब्राउजिंग की तुलना में 35 फीसदी ज्यादा सिक्योर है। कंपनी ने गुरुवार को एक ब्लॉग पोस्ट में कहा कि "Chrome 91 से शुरू होकर, हम बेहतर सुरक्षित ब्राउजिंग यूजर्स को अपने एक्सटेंशन चुनने में मदद करने के लिए नई सुविधाओं को रोल आउट करेंगे।