Google Maps की गलती से गई युवक की जान,  यहां जानें पूरा मामला

 13 Dec 2020 02:08 PM

नई दिल्ली : टेक्नोलॉजी ने हमारी जिंदगी को जितना आसान बनाया है उतना ही कुछ मामलों में हमारे लिए मुश्किलें भी खड़ी कर दी है। इन्ही मुश्किलों का शिकार रूस के साइबेरिया का एक लड़का हो गया।  दरअसल साइबेरिया में एक मामला सामने आया है जिसमें गूगल मैप की एक छोटी सी गलती के चलते 18 साल का लड़का रास्ता भटक गया।         
लड़का जिस गलत रास्ते पर गया वहां रात में तापमान -50 डिग्री सेल्सियस था। जिसके चलते वो सर्दी में जम गया जिससे उसकी मौत  हो गई। गनीमीयत यह रही की उसका साथी बच गया। ये दोनों इस सड़क पर कई दिनों तक फंसे रहे थे।
 
पूरा मामला 
मीडिया रिपोर्ट की माने तो  सर्गे उस्तीनोव और वाल्दीस्लाव इस्तोमिन साइबेरिया के पोर्ट ऑफ मेगाडन जा रहे थे। रास्ते की जानकारी ना होने के कारण उन्होंने गूगल मैप्स की मदद ली। लेकिन मैप्स से मदद लेने के चलते वे गलत दिशा में चले गए। वे गलती से रोड ऑफ बोन्स पहुंच गए थे जो कि रात के समय काफी खतरनाक मानी जाती है। यहां अचानक तापमान गिर जाता है। दरअसल, गूगल मैप ने शार्टकट के चक्कर में दोनों को ऐसे रास्ते पर भेज दिया जो न सिर्फ बंद था बल्कि काफी जटिल भी था। 
यह सड़क पूरी तरह बर्फ से ढंकी हुई थी और सर्दी बढ़ने के बाद कार के रेडियेटर ने भी काम करना बंद कर दिया। दोनों लड़के इस चुनौती के लिए तैयार नहीं थे और ना ही वो भीषण सर्दी से निपटना जानते थे। परिणामस्वरूप इनमें से एक लड़के की मौके पर ही मौत हो गई।  वहीं दूसरे के  हाथ-पांव बुरी तरह जमे हुए हैं और उन्हें काटना पड़ सकता है। खबर के मुताबिक वाल्दीस्लाव अभी भी जिंदा है लेकिन उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।