5 जी ट्रायल के लिए सरकार ने 13 आवेदनों को मंजूरी दी,चाइनीज कंपनियों को रखा बाहर

 04 May 2021 08:26 PM

नई दिल्ली। इस साल देश में 5 जी नेटवर्क शुरू हो सकता है, इसके ट्रायल के लिए सरकार ने 13 एप्लीकेशंस को मंजूरी दे दी है। 5G ट्रायल के लिए टेलीकॉम कंपनियों को जल्द ही 700 मेगाहर्ट्ज बैंड की एयरवेव दी जाएंगी। इस ट्रायल से चाइनीज कंपनियों को दूर रखा गया है।

अभी दुनिया भर  के 68 देशों में 5जी सेवा शुरू हो चुकी है। अमेरिका, साउथ कोरिया, ऑस्ट्रेलिया, स्विट्जरलैंड और जर्मनी 5G ग्राहकों को 1Gbps इंटरनेट स्पीड की सुविधा मिल रही है।

कंपनियों ने की साझेदारी:

ट्रायल के लिए देश टेलिकॉम प्रोवाइडर कंपनियों ने दूसरी कंपनियों से साझेदारी की है। भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL) ने सेंटर फॉर डेवलपमेंट ऑफ टेलीमेटिक्स (C-DoT), भारती एयरटेल, वोडाफोन-आइडिया और रिलायंस जियो ने एरिक्सन और नोकिया से वेंडर्स के साथ साझेदारी की है।

जियो ने की थी घोषणा :  

पिछले साल रिलायंस इडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी कह चुके हैं कि जियो की 2021 की दूसरी छमाही में 5G लॉन्च करने की योजना है। उन्होंने कहा था कि यह स्वदेशी-विकसित नेटवर्क होगा। अमेरिकी टेक्नोलॉजी फर्म क्वालकॉम के साथ मिलकर रिलायंस जियो, अमेरिका में अपनी 5G टेक्नोलॉजी का सफल परीक्षण कर चुकी है।