यू-ट्यूब, Facebook, Twitter और WhatsApp से हटवाना चाहते हैं फर्जी खबरें या आपत्तिजनक कंटेंट, जानें कहां और कैसे करें शिकायत

 05 Jun 2021 03:55 PM

नई दिल्ली। सोशल मीडिया कंपनियों और सरकार के बीच चले टकराव के बीच नए साइबर इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (IT) नियम लागू हो चुके हैं। अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को ग्रीवांस ऑफिसर को रखना जरूरी हो गया है। नए नियमों में केंद्र सरकार ने कहा था कि फेसबुक (Facebook), वॉट्सऐप (Whatsapp), ट्विटर (Twitter) और भारत में सेवा देने वाली ऐसी ही अन्य कंपनियों को शिकायतों के निपटारे के लिए अधिकारियों की नियुक्ति करना अनिवार्य है। जिन सोशल प्लेटफॉर्म पर 50 लाख से ज्यादा यूजर्स हैं, उन्हें एक शिकायत अधिकारी, एक नोडल अधिकारी और एक मुख्य अनुपालन अधिकारी रखने अनिवार्य होंगे। ये सभी अधिकारी भारत के रहने वाले होने चाहिए।


ग्रीवांस ऑफिसर है जरूरी
देश में आईटी एक्ट 2000 के तहत यूजर्स की शिकायतों के समाधान का प्रावधान है। सोशल मीडिया कंपनियों समेत कई ई-कॉमर्स, टेलीकॉम और यूपीआई कंपनियों ने भी ग्रीवांस ऑफिसर्स की नियुक्ति कर दी है। नए आईटी नियमों के मुताबिक, कंपनियों को ग्रीवांस ऑफिसर की पूरी डिटेल, कॉन्टैक्ट नंबर, पता, कंप्लेंट प्रॉसेस वगैरह अपने यूजर्स को सार्वजनिक तौर पर बताना जरूरी है।


24 से 36 घंटे के भीतर हटाने होंगे कंटेंट
अक्सर ऐसा देखने में आता है कि सोशल मीडिया पर फेक न्यूज वायरल हो जाती है। कई फर्जी खबरें हिंसा का भी कारण बन चुकी हैं। सांप्रदायिक उन्माद को लेकर फैलाए जाने वाले कंटेंट से भी ज्यादा खतरा रहता है। नए नियमों के तहत किसी आपत्तिजनक कंटेंट को लेकर यूजर्स की शिकायत के बाद कंपनियों को 24 घंटे के अंदर पुष्टि करनी होगी और 15 दिन के अंदर समाधान करना होगा। यूजर्स की आपत्ति वाजिब है तो 36 घंटे के भीतर प्लेटफॉर्म से हटाना होगा। न्यूडिटी और पोर्नो कंटेंट को 24 घंटे के अंदर हटाना जरूरी होगा।

आइए जानते हैं सोशल प्लेटफॉर्म पर कैसे कर सकेंगे शिकायत...


फेसबुक पर ऐसे करें शिकायत
फेसबुक यूजर्स भी कई तरीके से अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। आप किसी पोस्‍ट को सीधे रिपोर्ट कर सकते हैं। www.facebook.com/help/contact/278770247037228?helpref=faq_content पर विजिट कर ऑप्‍शंस को फॉलो करते हुए कंप्लेन दर्ज करा सकते हैं या फिर FBGOIndia@fb.com पर मेल भी कर सकते हैं। इसके अलावा कंप्लेन पोस्ट करनी हो तो दिल्ली ऑफिस के पते पर भेज सकते हैं।

स्पूर्ति प्रिया
216 ओखला इंडस्ट्रियल एस्टेट,
फेज III, नई दिल्ली
पिन कोड- 110020

वॉट्सऐप पर ऐसे करें शिकायत
वॉट्सऐप ब्लॉग में दी गई जानकारी के मुताबिक, यूजर्स वॉट्सऐप से संबंधित शिकायत अपने मोबाइल से भी कर सकते हैं। इसके लिए वॉट्सऐप के Settings ऑप्‍शन पर जाएं, फिर Help पर टैप करें और फिर Contact Us पर टैप कर अपनी शिकायत दर्ज करा दें। इसी तरह पेमेंट से जुड़ी शिकायतें भी Payments के Help Settings में जाकर कर सकते हैं। आप चाहें तो सुबह 7 बजे से रात 8 बजे के बीच टोल फ्री नंबर 1800-212-8552 पर भी कॉल कर सकते हैं। आप अपनी शिकायत डाक के जरिये भी कर सकते हैं। 

परेश बी लाल
ग्रीवांस ऑफिसर, वॉट्सऐप
पोस्ट बॉक्स नंबर-56
रोड नंबर-1, बंजारा हिल्स
हैदराबाद, तेलंगाना
पिन कोड- 500034

यू-ट्यूब पर ऐसे करें शिकायत
गूगल इंडिया के ऑफिशियल पेज पर दी गई जानकारी के मुताबिक, Youtube से आपत्तिजनक कंटेंट हटवाने के लिए support.google.com/youtube/answer/10728153 पर विजिट कर सकते हैं। Google की यूपीआई ऐप Google pay से जुड़ी शिकायत के लिए आप support.google.com/pay/india/answer/10084701 पर विजिट कर सकते हैं। आप चाहें तो support-in@google.com पर ईमेल भी कर सकते हैं या टोल फ्री नंबर 1800-419-0157 पर कॉल कर के भी अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं। अमेरिका में गूगल के ग्रीवांस ऑफिसर को लिखने के लिए ये है पता

जोए ग्रीएर
ग्रीवांस ऑफिसर, गूगल एलएलसी
1600 एम्फीथिएटर पार्कवे, माउंटेन व्यू
सीए 94043, यूएसए

ट्विटर पर ऐसे करें शिकायत
ट्विटर पर किसी पोस्ट की शिकायत के लिए आप legalrequests.twitter.com/forms/landing_disclaimer पर विजिट कर सकते हैं। यहां आपको अपनी डिटेल डालकर कंप्लेन रजिस्टर करानी होगी। आप अपनी शिकायत grievance-officer-in@twitter.com पर मेल कर सकते हैं। इसके साथ ही आप अपनी शिकायत डाक के जरिये पोस्ट भी कर सकते हैं।

पता है— धर्मेंद्र चतुर,
4th फ्लोर, द एस्टेट
121, डिकेंसन रोड,
बेंगलुरु, कर्नाटक
पिन कोड- 560042