रेलवे: जनरल टिकट सेवा शुरू, मोबाइल से ही बुक करें ट्रेन टिकट; जानिए पूरा प्रोसेस

 01 Mar 2021 02:13 PM

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने एक बार फिर जनरल टिकट सेवा शुरू कर दी है। इसके लिए यूटीएस ऑन मोबाइल ऐप के जरिए टिकट कर सकते हैं। मोबाइल से टिकट बुकिंग का निर्णय इसलिए लिया गया है ताकि रेलवे स्टेशनों पर बुकिंग काउंटर पर ज्यादा भीड़ इकट्ठा न हो और कोरोना का गाइडलाइन का पालन भी होता रहे।  रेलवे ने कई रूटों पर पैसेंजर ट्रेन सेवाएं भी शुरू कर दी है। ऐसे में यात्रियों के लिए यह बड़ी राहत होगी।

भारतीय रेलवे की 65 फीसदी से ज्यादा ट्रेनें भी पटरी पर दौड़ने लगी हैं। मेल एक्सप्रेस ट्रेनों के बाद अब कई रूटों में जरूरत और मांग के मुताबिक, पैसेंजर ट्रेन सेवाएं भी शुरू की गई हैं। ट्रेनों में रिजर्वेशन के लिए तो आईआरसीटीसी के जरिए ऑनलाइन सुविधा रहती है, लेकिन अनारक्षित यानी जनरल टिकट के लिए भी यात्रियों को परेशानी हो रही थी। टिकट काउंटर पर उन्हें भीड़ का सामना करना पड़ता था, लेकिन अब ऐसा नहीं होगा।

रेलवे ने उन क्षेत्रों में यूटीएस ऑन मोबाइल ऐप की सुविधा को फिर से सक्रिय करने का निर्देश दिया है, जहां पैसेंजर या अनारक्षित ट्रेन सेवाएं फिर से शुरू की जा रही हैं। इस संबंध में जोनल रेलवे को निर्देश दिया गया है कि जिस भी जोन में अनारक्षित ट्रेन सेवाएं शुरू की जा रही हैं, वहां अनारक्षित टिकट जारी करने के लिए मोबाइल एप्लिकेशन सेवा शुरू की जा सकती है। UTS ON MOBILE ऐप के जरिए अनारक्षित टिकट बुक करने की सुविधा से लोगों की परेशानी दूर होगी।

मोबाइल में ऐप इस तरह डाउनलोड करें
UTSONMOBILE को मोबाइल ऐप्स प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध कराया गया है। एंड्रायड यूजर Google play store पर जाकर इसे सर्च कर डाउनलोड कर सकते हैं। आईफोन यूजर इसे एप्पल स्टोर से डाउनलोड कर मोबाइल में इंस्टॉल कर सकते हैं। यह ऐप पूरी तरह नि:शुल्क है।

यह ध्यान रखें-

  • पेपरलेस टिकट बुक करने के लिए स्मार्टफोन को जीपीएस सक्षम होना चाहिए। टिकट आपके मोबाइल ऐप में ही रहेगा। यानी इसे प्रिंट करने की जरूरत नहीं होगी.
  • बुकिंग करने के बाद एक घंटे के भीतर यात्रा शुरू होनी चाहिए।

ऐप पर ऐसे टिकट बुक करें

  • सबसे पहले यूजर अकाउंट बनाना होगा।
  • ऐप में लॉगिन करने के बाद यात्रा शुरू करने वाला स्टेशन डालें और फिर गंतव्य स्टेशन डालें।
  • इसमें टिकट सेलेक्ट कर पेमेंट ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • ऐप वैलेट, यूपीआई या डिजिटल पेमेंट के अन्य तरीके से भुगतान कर सकते हैं।