सीएफएल व फिलामेंट बल्ब करते हैं पर्यावरण को प्रदूषित, लगा बैन

सीएफएल व फिलामेंट बल्ब करते हैं पर्यावरण को प्रदूषित, लगा बैन

तिरूवंतपुरम। केरल ने सीएफएल और फिलामेंट बल्ब पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया है। इसके साथ ही केरल ऐसा करने वाला भारत का पहला राज्य बन गया है। केरल के वित्त मंत्री टीएम थॉमस ने कहा कि सीएफएल और फिलामेंट बल्ब से कचरा ज्यादा उत्पन्न होता है। फिलामेंट बल्ब में पारा होता है, जिसके कारण इनके टूटने के बाद पर्यावरण के प्रदूषित होने का खतरा भी ज्यादा रहता है, जबकि एलईडी बल्ब इन दोनों से कहीं ज्यादा ऊर्जा बचाने वाले व सुरक्षित होते हैं।

देश का पहला फिलामेंट मुक्त गांव

केरल के कासरगोड जिले में पीलीकोड पंचायत पिछले साल ही फिलामेंट बल्ब से मुक्त हो चुका है। बीते एक साल से यहां कहीं भी एक भी फिलामेंट बल्ब का उपयोग नहीं किया जा रहा है। यह देश का पहला गांव है जिसे फिलामेंट मुक्त घोषित किया गया है।

सरकार बेचेगी एलईडी बल्ब

केरल राज्य विद्युत बोर्ड और राज्य के ऊर्जा प्रबंधन केंद्र द्वारा संयुक्त रूप से फिलामेंट मुक्त केरल परियोजना लागू की जाएगी। सरकार उपभोक्ताओं को केरल राज्य विद्युत बोर्ड की वेबसाइट पर एलईडी खरीदने की सुविधा दे रही है।