हमलावरों के पीछे कांग्रेस पार्टी, मेरी हत्या की थी साजिश, विधायक की बात से है मनसूबे साफ

 09 Jun 2020 11:01 PM  2

ग्वालियर। मेरे ऊपर जिन्होंने हमला किया, उनके पीछे कांग्रेस पार्टी है। कांग्रेस पार्टी यहां तक पहुंच जाएगी, कि मेरी हत्या करने का प्रयास करें, राजनीति में यह बहुत गंभीर है। लेकिन इस हमले से मेरा मिशन खत्म नहीं होगा। यह आरोप पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल ने अपने ऊपर सिरौल थाने में हुए हमले के बाद पत्रकारोें से चर्चा के दौरान कहीं। भाजपा कार्यालय मुखर्जी भवन में पूर्व विधायक ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि नहाने से पहले सुबह 8.30 बजे सिरौल क्षेत्र के कार्यकर्ता ने मुझें स्थानीय युवक पारस जौहरी की हत्या के बाद परिजनों द्वारा शव को थाने पर रखे होने की जानकारी दी। जिसके बाद मैं बिना गार्ड के अपने वाहन से मौके पर पहुंचा, जहां भीड़ में से 4-5 युवकों ने पत्थरों से मुझें निशाना बनाते हुए हमला किया। साथ ही उनके टारगेट पर मेरा सिर फोड़कर मारना ही रहा। लेकिन मेरे ड्राइवर की समझदारी से वाहन को पीछे लेकर बचा लिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस को अनुसूचित जाति का बड़ा वर्ग मेरे साथ भाजपा में जाने पर अपने जमीन कमजोर होना खल रहा है,लेकिन उनके हमले से मेरा मिशन रूकेगा नहीं, मैं कल फिर से उनके बीच जांउगा। क्योंकि हमलावर ताकते चाहती है कि हमारे कदम रूक जाए। उन्होंने कांग्रेस के सवा साल के कार्यकाल पर घेरते हुए कहा कि वचन पत्र में गरीबों के हित में काम करेंगे, लेकिन उन्होंने सिरौल में बुलडोजर चलवा दिए। परन्तु आज कांग्रेस जो राजनीति कर रही है वह अच्छी नहीं है। मौक पर सांसद विवेक शेजवलकर, विधायक गौरीशंकर बिसेन, मीडिया प्रभारी पवन सेन मौजूद थे।

मुन्नालाल को उनके कर्मों व धोखेबाजी की सजा मिली

कांग्रेस की मानसिकता हमेशा से गांधीवादी रही है, ऐसी ओछी राजनीति कांग्रेस कार्यकर्ता कभी नहीं करते। मुन्नालाल गोयल को तो उनके कर्मों और जनता के साथ किए गए धोखे की सजा मिली है। यह बात हमला होने के बाद पूर्व विधायक मुन्नालाल गोयल द्वारा दिए गए बयान पर पलटवार करते हुए कांग्रेस नेता रूपेश यादव ने कही है।

तीन दिन पहले हो गई थी हमले की प्लानिंग
हमले में खुद के सिर में चोट व चार टांके बताने के बाद पूर्व विधायक ने कांग्रेस विधायक द्वारा पूरे घटनाक्रम को सहीं बताने के सवालों पर कहा कि इससे उनकी मानसिकता साफ हो गई है। साथ ही कहा कि हमलावरों की कांग्रेस नेताओं की मीटिंग होने की बात भी कही, लेकिन कांग्रेस नेताओं के शामिल होने, पुलिस में एफआईआर करवाने, थाने के सामने हमले पर कानून व्यवस्था धवस्त होने जैसे सवालों के जबाव उन्होंने नहीं दिए। 

मुन्नालाल गोयल खुद हुए अपनी साजिश का शिकार
शहर जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष डॉ देवेन्द्र शर्मा ने  मुन्नालाल गोयल के साथ हुई मारपीट पर  तीखा पलटवार करते हुए कहा कि गोयल खुद  अपनी साजिश का शिकार हुए हैं और आरोप कांग्रेस पर लगा रहे हैं। श्री शर्मा ने मुन्नालाल गोयल द्वारा लॉकडाउन में अपने गार्ड को लेकर जगह-जगह घूम रहे थे मंगलवार को अचानक गार्ड को छोड़कर जिस स्थान पर पहुचें वह उनकी बनाई गई साजिश है, क्योंकि उनके विस क्षेत्र में मुन्नालाल गोयल का जनाधार खिसक गया है, मृत आत्मा पर राजनीति करने पहुंचें और वहां साजिश के तहत यह षणयंत्र रचाया, कांग्रेस व दलित समाज पर झूठा आरोप लगाया है, जिस दल में वह शामिल हुए वह दल साजिश, षड़यंत्र का जन्मदाता है, और जनता यह समझ चुकी है कि दल बदल करने वाले जनता के हितैषी नहीं हैं ।  डा. शर्मा ने कहा कि यह हमला इसलिए कराया गया है ताकि जनता की सहानुभूति मिल सके, वे कांग्रेस पर आरोप लगाने से बाज आएं ।