कोरोना: शरीर के प्रतिरक्षा तंत्र को मजबूत करना होगा: डॉ.मेवाड़

 11 Jun 2020 10:19 PM  2

ग्वालियर। विक्रांत कॉलेज में अध्ययनरत सभी संकाय के छात्रों एवं स्टॉफ सदस्यों हेतु हेल्थ मैनेजमेंट इन न्यू नॉर्मल ड्यूरिंग करोना पेंनडमिक विषय पर वेबिनार आयोजित किया गया। वेबिनार में मुख्य वक्ता के रूप में इन्दौर के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. राहुल मेवाड़ (सर्जरी, मेडीकल सुपरीटेंडेन्ट, मेवाड़ हॉस्पीटल), डॉ संगीता मेंवाड़ (डायरेक्टर, मेवाड़ मीडिरूा केयर एण्ड आई हॉस्पीटल) एवं डॉ. अशोक मेवाड़ (फिजीसियन चेस्ट एण्ड टीवी, स्पेशलिस्ट एड्स एंड एचआईवी मेडीसिन) को आमंत्रित किया गया। मुख्य वक्ताओं ने छात्रों को बताया कि कोविड-19 वायरस के लक्षण मनुष्य में 15 दिनों में सक्रिय हो सकते हैं। इस महामारी से बचने का सबसे सुरक्षित तरीका सोशल डिस्टेंसिंग है। हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. अशोक मेवाड़ ने बताया कि करोना वायरस का संक्रमण सीधे गले एवं हृदय पर असर करता है, जिससे संक्रमित लोगों को श्वांस लेने में तकलीफ होने लगती है। समय पर उचित उपचार न मिलने पर संक्रमण तीव्रता से फैलता है। इससे सुरक्षित रहने के लिए दैनिक जीवन चर्या को संतुलित करना होगा जैसे घर से बाहर जाते समय मास्क का उपयोग करें, हर घंटे साबुन से हाथ धोकर सैनेटाइज करें, सामाजिक दूरी बनाकर रखें, नियमित योग करें। वेबिनार में विक्रांत समूह के लगभग 800 छात्रों ने आॅनलाइन जुड़कर कोविड-19 के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां वरिष्ठ चिकित्सा विशेषज्ञों से प्राप्त की।