कोरोना का डर : ऑटो और टैक्सी में सफर से कतरा रहे लोग

कोरोना का डर : ऑटो और टैक्सी में सफर से कतरा रहे लोग

भोपाल। ऑटो चलाते हुए 3 दिन हो गए। इस दौरना मैंने 250 रुपए की तीन सवारियों को छोड़ा। पहले एक दिन में 800 रुपए तक का धंधा हो जाता था। मगर लॉकडाउन के बाद इस 260 रुपए में क्या बच्चों को खिलाऊं और क्या पेट्रोल डलवाऊं कुछ समझ नहीं आ रहा। यह कहना है हाथीखाना इलाके में रहने वाले ऑटो चालक गोपी का। गोपी ने बताया इन दिनों दिन भर में सवारी का इंतजार करता हूं। इन दिनों कमाई बिल्कुल भी नहीं हो रही। यही हाल कैब ड्रइवरों का है। कैब ड्रायवर शोएब ने बताया इन दिनों भूले भटके सवारी सिर्फ स्टेशन से ही मिलती है। लोग कैब से जाना पसंद कर रहे हैं।