खेत पर कवर ग्रास अवश्य लगाएं: राजाबाबू सिंह

Grass

खेत पर कवर ग्रास अवश्य लगाएं: राजाबाबू सिंह

ग्वालियर। वर्षा के पानी को जमीन के अंदर जाने दें, जिससे पैदावार होने के साथ ही वॉटर लेवल भी बढ़ेगा। इसके लिए खेत को खाली न छोड़ें, उस पर कवर ग्रास अवश्य लगाएं, क्योंकि इससे मिट्टी की उर्वरक शक्ति बढ़ती है। जिसके जरिए पानी मिट्टी के अंदर तक पहुंच जाता है। जबकि खाली खेत छोड़ने से बारिश का पानी मिट्टी को बहा ले जाता है। यह बात ग्वालियर रेंज एडीजी राजाबाबू सिंह ने पर्यावरण दिवस पर अपने शासकीय निवास पर पत्रकारों से चर्चा करते हुए कही। एडीजी श्री सिंह ने इस अवसर पर अपने आवास परिसर में अंजीर का पौधा रोपते हुए कहा कि आज पूरे विश्व में पर्यावरण दिवस मनाया जा रहा है, इस समय कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी के दौर में पर्यावरण का अत्यधिक महत्व है, क्योंकि पर्यावरण और प्रकृति के साथ चलने से ही आज भारत इस महामारी से टक्कर ले रहा है। श्री सिंह ने कहा कि प्रकृति से छेड़छाड़ करना व्यक्ति के जीवन में कहीं न कहीं घटना व दुर्घटनाओं का आभास कराती है, आज हमें पर्यावरण को री-जनरेट करने की जरूरत है, इसके लिए नए तरीके से जीवन जीना सीखना होगा। गांवों में लाखों एकड़ जमीन खाली पड़ी हुई है, वहां वर्षा का जल व्यर्थ बह रहा है, उसे रोकने के लिए भी उपाय करने होंगे। उन्होंने ग्वालियर की बेसली नदी का जिक्र करते हुए कहा कि एक समय था, जब यहां बेसली नदी बहा करती थी, जो आज लुप्त सी हो गई है, उसे जनरेट करने के लिए आप और हम को मिलकर उपाय करने होंगे। हम संकल्प लें कि वर्ष में कम से कम पांच पेड़ तो अवश्य लगा सकें। इस अवसर पर उनके साथ रामकृष्ण आश्रम के स्वामी जी भी उपस्थित थे।