विजयनगर में बनेगा इलेक्ट्रिक बसों का चार्जिंग स्टेशन, आईडीए से मिली जमीन

 10 Feb 2020 09:52 PM  867

स्टेशन का प्लान और डिजाइन तैयार, टेंडर प्रक्रिया पूरी, छह माह में तैयार हो जाएगा स्टेशन  
इंदौर को स्मार्ट शहर के रूप में विकसित किया जा रहा है। स्मार्ट शहर में शहरवासियों के लिए नई-नई सुविधाएं मुहैया करवाने का प्रयास किया जा रहा है। भारत सरकार के डिपार्टमेंट आॅफ हैवी इंडस्ट्री (डीएचआई) प्रोजेक्ट के अंतर्गत बसों का संचालन शुरू किया गया है। प्रोजेक्ट के तहत इंदौर में इलेक्ट्रिक बसों का संचालन शुरू हो चुका है, जबकि भोपाल, उज्जैन, ग्वालियर तथा जबलपुर में जल्द ही इन्हें चलाया जाएगा। अब मप्र का पहला इलेक्ट्रिक बस चार्जिंग स्टेशन विजय नगर चौराहे पर बनाया जा रहा है। आईडीए ने एआईसीटीएसएल को चार्जिंग स्टेशन के लिए साढ़े तीन एकड़ जमीन आवंटित कर दी है। स्टेशन के लिए टेंडर प्रक्रिया पूरी हो गई है। पूरा प्लान भी तैयार हो चुका है। 
प्रोजेक्ट को धरातल पर लाने की तैयारी - एआईसीटीएसएल के सीईओ संदीप सोनी ने बताया कि अब प्रोजेक्ट को धरातल पर लाने की तैयारी की जा रही है। चार्जिंग स्टेशन पर 100 बसों की व्यवस्था रहेगी, जबकि जमीन के एक हिस्से में बसों के मेंटेनेंस के लिए वर्कशॉप भी बनाया जा रहा है। इस पूरे प्रोजेक्ट पर लगभग 15 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। उन्होंने बताया कि विजय नगर चौराहे पर आईडीए की खाली पड़ी जमीन पर चार्जिंग स्टेशन बनाने के लिए आईडीए से साढ़े तीन एकड़ जमीन के लिए आवेदन किया था। पिछले सप्ताह आईडीए ने एआईसीटीएसएल को जमीन का कब्जा सौंप दिया है। स्टेशन निर्माण के लिए टेंडर जारी कर दिए हैं, जो छह माह में तैयार हो जाएगा।
स्टेशन के लिए तीन स्थान देखे थे 
सोनी के मुताबिक चार्जिंग स्टेशन के लिए तीन अलग-अलग स्थानों का चयन किया था, लेकिन तकनीकी समस्या के कारण तीनों स्थानों को खारिज करने के बाद आईडीए से विजय नगर की जमीन मांगी थी। जमीन का परीक्षण करने के बाद कलेक्टर लोकेश जाटव व अन्य अफसरों ने दौरा कर जमीन को फाइनल किया। यहां पर आईडीए की 7 एकड़ जमीन है, जिसमें से साढ़े तीन एकड़ जमीन पर चार्जिंग स्टेशन बनेगा। 
40 बसों का संचालन - वर्तमान में इंदौर में 40 इलेक्ट्रिक बसें चलाई जा रही है। इंदौर में सबसे ज्यादा 200 बसें चलाई जाना हैं।  चार्जिंग स्टेशन बनने तक इंदौर में 160 इलेक्ट्रिक बसें और तैयार हो जाएंगी। चार्जिंग स्टेशन डिपो या पार्किंग स्टैंड की तरह होगा। स्टेशन की लागत 12 करोड़ रुपए आंकी गई है, जबकि एक बस की अनुमानित कीमत करीब सवा करोड़ रुपए है। 

इनका कहना है 
चार्जिंग स्टेशन के लिए विजय नगर जोनल कार्यालय के पास आईडीए की साढ़े तीन एकड़ जमीन मिल चुकी है। बसों का प्लान और चार्जिंग स्टेशन का डिजाइन भी तैयार है। 6 माह के भीतर स्टेशन तैयार हो जाएगा।
-संदीप सोनी, सीईओ, एआईसीटीएसएल